जहानाबाद। व्यवहार न्यायालय में शनिवार को राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किया गया। जिला एवं सत्र न्यायाधीश चंद्रप्रकाश ¨सह के निर्देशन में कुल 554 मामलों का निपटारा किया गया। इस अवसर पर एक करोड़ 84 लाख 69 हजार 159 रुपए के मामलों का समझौता हुआ। जिसमें 49 लाख 27 हजार 102 रुपये की नगद वसूली भी हुई।

जिला विधिक सेवा प्राधिकार के सचिव सबजज आर के रजक ने बताया कि राष्ट्रीय लोक अदालत में बैंक के 501 बिजली के एक तथा अपराधिक मामलों के 52 मामलों का निपटारा किया गया।

उन्होंने बताया कि इस अवसर पर सात पीठों का गठन किया गया था।जिसमें एक न्यायिक पदाधिकारी के साथ दो अधिवक्ता को भी राष्ट्रीय लोक अदालत के हर पीठ में लगाया गया था।

जिन न्यायिक पदाधिकारियों को राष्ट्रीय लोक अदालत में लगाया गया था उनमें एडीजी धर्मेंद्र कुमार जायसवाल,सब जज प्रथम सुधीर कुमार सिन्हा,सब जज राकेश कुमार रजक,एसडीजीएम मुकेश कुमार मिश्रा, मुंसीफ मनीष कुमार उपाध्याय, न्यायिक पदाधिकारी प्रणव कुमार भारती लोक अदालत के पीठासीन पदाधिकारी विभाकर दुबे शामिल थे।

Posted By: Jagran