जहानाबाद। बिहार विद्यालय परीक्षा समिति द्वारा संचालित मैट्रिक की परीक्षा की तैयारी लगभग पूरी हो चुकी है। इंटरमीडिएट की परीक्षा समाप्त होने के बाद अब शिक्षा विभाग के लोग मैट्रिक की परीक्षा की तैयारी को अंतिम रूप देने में लग गए हैं। इस परीक्षा के संचालन के लिए इंटरमीडिएट की तरह ही 15 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। शांतिपूर्ण एवं कदाचार मुक्त परीक्षा के संचालन के लिए व्यापक तैयारी की जा रही है। इस परीक्षा में भी किसी प्रकार की गड़बड़ी या कदाचार नहीं हो इसपर खासा ध्यान रखा जा रहा है। परीक्षा के संचालन के लिए पर्याप्त संख्या में वीक्षकों की सूची भी तैयार की जा रही है। जिला शिक्षा पदाधिकारी विद्यासागर ¨सह ने बताया कि इस परीक्षा की तैयारी को अंतिम रूप दिया जा रहा है। उन्होंने बताया कि इस साल मैट्रिक की परीक्षा में 23 हजार 365 परीक्षार्थी शामिल होंगे। उन्होंने कहा कि प्रथम पाली में 12 हजार 35 परीक्षार्थी परीक्षा में बैठेंगे जबकि द्वितीय पाली में 11 हजार 330 परीक्षार्थी शामिल होंगे। डीइओ ने बताया कि परीक्षा में छात्रों से छात्राओं की संख्या अधिक होगी। तकरीबन 11 हजार छात्र इस परीक्षा में शामिल होंगे जबकि तकरीबन 12 हजार छात्राएं इस परीक्षा में शामिल होंगी। उन्होंने कहा कि लड़कियों के लिए आठ परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं जबकि सात परीक्षा केंद्रों पर लड़के इस परीक्षा में शामिल होंगे।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस