जहानाबाद। कदाचार मुक्त वातावरण में मैट्रिक की परीक्षा आयोजित किए जाने को लेकर मंगलवार को ग्राम प्लेक्स भवन में अनुमंडल पदाधिकारी पारितोष कुमार तथा अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी प्रभात भूषण श्रीवास्तव ने संबंधित अधिकारियों व कर्मियों को आवश्यक निर्देश दिए। मौके पर जिला शिक्षा पदाधिकारी विद्यासागर ¨सह, सभी केंद्राधीक्षक तथा अन्य अधिकारी व कर्मी मौजूद थे। अनुमंडल पदाधिकारी ने कहा कि सभी 15 परीक्षा केंद्रों में कदाचार मुक्त परीक्षा के आयोजन को लेकर सभी अपने कर्तव्यों का निर्वहन बेहतर तरीके से करें। परीक्षा केंद्र पर समय से 10 मिनट पहले परीक्षार्थियों को पहुंचना अनिवार्य होगा। परीक्षा संचालन से 10 मिनट पहले ही पूरी तरह जांच पड़ताल कर केंद्र के अंदर प्रवेश कराएं। विलंब से पहुंचने वाले परीक्षार्थी परीक्षा से वंचित हो सकते हैं। उन्होंने कहा कि किसी भी सूरत में कदाचार बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। केंद्र के बाहर निषेधाज्ञा लागू रहेगी। परीक्षार्थी एडमिट कार्ड और कलम के अलावा अपने साथ अन्य कोई सामाग्री लेकर केंद्र के अंदर नहीं जाएंगे। सभी केंद्राधीक्षक इस बात का ख्याल रखेंगे कि मुख्य द्वार पर ही परीक्षार्थियों की सघन जांच कर ली जाए। जेा परीक्षार्थी जुत्ता पहनकर परीक्षा देने आएंगे उन्हें जुत्ता खोलवाकर केंद्र के अंदर प्रवेश कराएं। परीक्षा के दौरान केंद्राधीक्षक जहां व्यवस्था का संचालन करेंगे वहीं बीच-बीच में अन्य पदाधिकारी भी जांच के लिए जाएंगे। इस दरम्यान किसी भी तरह की कदाचार की कोशिश नजर आएगी तो संबंधित वीक्षकों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। मौके पर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी ने निर्देश देते हुए कहा कि जिन पुलिस पदाधिकारियों की ड्यूटी परीक्षा कार्य के लिए निर्धारित किया गया है वे ससमय ड्यूटी पर तैनात रहेंगे। उन्होंने कहा कि लड़कियों की परीक्षा केंद्र पर महिला पुलिस छात्राओं की सघन तलाशी लेकर ही केंद्र के अंदर प्रवेश कराएंगे। बताते चलें कि इस वर्ष लड़कों से अधिक लड़कियां इस परीक्षा में शामिल हो रही है। लड़कियों के लिए आठ तथा लड़कों के लिए सात परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। गौतम बुद्ध इंटर विद्यालय, राज्य संपोषित बालिका विद्यालय, मानस इंटरनेशनल स्कूल दक्षिणी तथा गांधी स्मारक उच्च विद्यालय को आदर्श परीक्षा केंद्र बनाया गया है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप