गोपालगंज : ऐतिहासिक थावे दुर्गा मंदिर के समीप होमगार्ड मैदान में मंगलवार की शाम थावे महोत्सव का रंगारंग आगाज किया गया। रंग बिरंगी रोशनी के बीच भव्य पंडाल में थावे महोत्सव के आगाज के साथ की देश के जाने माने कलाकारों ने मंच संभाल लिया। कार्यक्रम की शुरुआत बिहार गौरव गीत से हुई। इस बीच मगध संगीत संस्थान के कलाकारों की मनमोहक प्रस्तुति तथा असम से पहुंचे कलाकारों के बिहू नृत्य पर श्रोता झूम उठे। इसके बाद तो कार्यक्रम का दौर ऐसा चला कि देर रात तक श्रोता संगीत की सुर लहरी में डुबकी लगाते रहे।

मंगलवार को दिन के करीब तीन बजे से ही थावे महोत्सव में शामिल होने के लिए लोग थावे के होमगार्ड मैदान की तरफ निकल पड़े। निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार सूबे के पर्यटन मंत्री कृष्ण कुमार ऋषि तथा समाज कल्याण मंत्री रामसेवक सिंह के साथ सांसद डॉ. आलोक कुमार सुमन, विधायक मिथिलेश तिवारी तथा विधायक सुभाष सिंह भी मंच पर पहुंच गए। थावे महोत्सव का पर्यटन मंत्री कृष्ण मार ऋषि तथा समाज कल्याण मंत्री रामसेवक सिंह ने अन्य अतिथियों की मौजूदगी में दीप प्रज्वलित कर उद्घाटन किया। इस मौके पर अपने संबोधन में पर्यटन मंत्री ने कहा कि बिहार पर्यटन के मामले में पूरे देश में सातवें स्थान पर है। देश-विदेश के करोड़ों पर्यटक बिहार आ चुके हैं। उन्होंने कहा कि सरकार पर्यटन के विकास के लिए सरकार कई योजनाएं चला रही हैं। थावे के दुर्गा मंदिर को शक्ति सर्किट से जोड़ने का कार्य किया जाएगा। साथ ही थावे मंदिर परिसर में सर्किट हाउस, विवाह मंडप, पार्क, गेट सहित कई अन्य सुविधाएं मुहैया कराई जाएगी। मंदिर के सामने स्थापित तालाब को सौंदर्यीकरण कराया जाएगा। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन अगर जमीन उपलब्ध कराए तो एक भव्य होटल का निर्माण कराया जाएगा। जिसमें एक सौ रुपये से दस हजार रुपये तक का कमरा उपलब्ध होगा। सरकार पैसे की कमी नहीं होने देगी। उन्होंने कहा कि थावे मुख्य गेट से मंदिर परिसर तक शेड का निर्माण कार्य कराया जाएगा। ताकि यहां आने वाले श्रद्धालुओं को धूप व बारिश से राहत मिल सके। अपने संबोधन में समाज कल्याण मंत्री रामसेवक सिंह ने कहा कि गोपालगंज में मां थावे भवानी की कृपा है। लगातार हुई बारिश से भी जिले को कोई बड़ी क्षति नहीं हुई। उन्होंने पर्यटन विभाग से मंदिर परिसर में होटल तथा फब्बारा लगाने की मांग की। विधायक मिथिलेश तिवारी ने कहा कि गोपालगंज जिले में अब दो थावे व सिंहासनी महोत्सव का आयोजन हो रहा है। उन्होंने भी मंदिर परिसर में भव्य होटल बनाए जाने की मांग पर्यटन मंत्री से की। विधायक सुभाष सिंह ने थावे आने वाले श्रद्धालुओं के लिए यात्री निवास व होटल के अलावा मुख्य द्वार बनाने की मांग की। इससे पूर्व जिलाधिकारी अरशद अजीज ने मंत्री, सांसद व विधायकों के अलावा सारण के डीआइजी विजय कुमार को सम्मानित किया। इस मौके पर एसपी मनोज कुमार तिवारी, एडीएम कुमार अनिल सिन्हा, भूमि सुधार उप समाहर्ता उपेंद्र कुमार पाल, एसडीपीओ नरेश पासवान, भाजपा के जिलाध्यक्ष विनोद कुमार सिंह, जदूय जिलाध्यक्ष प्रमोद कुमार पटेल सहित कई गणमान्य अतिथि व अधिकारी मौजूद रहे। तगड़ी दिखी सुरक्षा की व्यवस्था

गोपालगंज : थावे महोत्सव के दौरान सुरक्षा व्यवस्था तगड़ी रही। जगह-जगह पुलिस के जवान तैनात रहे। थावे महोत्सव में आने जाने वाले लोगों की वीडियोग्राफी भी कराई जाती रही। वाच टावर पर भी सुरक्षा बल के जवान तैनात रहे। अलावा इसके ड्राप गेट से भी आने-जाने वाले लोगों पर निगरानी रखी गई। विभिन्न विभागों के लगाए का काउंटर

गोपालगंज : महोत्सव के दौरान थावे होमगार्ड मैदान परिसर में कई विभागों के काउंटर बनाए गए थे। जीविका, कृषि विभाग, आईसीडीएस सहित कई विभागों का काउंटर काफी आकर्षक रहा। इस मौके पर स्कूली बच्चों ने रंगोली भी बनाई। महोत्सव में पहुंचे लोगों ने काउंटर पर जाकर वहां लगाई गई प्रदर्शनी को देखा। राष्ट्र गान व बिहार गौरव गीत से हुई महोत्सव शुरुआत

गोपालगंज : उद्घाटन कार्यक्रम के बाद दो दिनों तक चलने वाले महोत्सव का भव्य आगाज राष्ट्र गान व बिहार गौरव गान से हुआ। गौरव गान की प्रस्तुति इहें जन्म लिहली सीता मईया.., ये धरती आपन बिहार की दर्शकों को खूब सराहना की। इसके बाद मगध संगीत संस्थान के कलाकारों ने कांच ही बांस के बहंगिया, बहंगी लचकत जाए छठ गीत पर मनमोहक प्रस्तुति देकर लोगों का मन मोह लिया। बिहार गौरव गान तथा छठ गीत के बाद गीत व संगीत का कारवां लगातार बढ़ता गया और दर्शक गीत व संगीत की स्वर लहरी में झूमने को विवश हुए। इस बीच असम के कलाकारों ने बिहू नृत्य प्रस्तुत कर दर्शकों की वाहवाही बटोरी।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप