गोपालगंज। हरितालिका तीज पर महिलाओं ने बुधवार को पूरे दिन निर्जला व्रत रख कर मंदिरों में जाकर पूजा की। व्रत को लेकर घरों में विशेष उत्साह रहा। मंगलवार की शाम नहाय खाय के बाद महिलाओं ने बुधवार को बगैर अन्न व जल के व्रत को धारण किया। सुख, समृद्धि व शांति की महिलाओं ने कामना की। पूरे दिन घरों में गौरी-गणेश के साथ ही भगवान शंकर की पूजा अर्चना की तैयारियां चलती रही। बुधवार को दिन के तीन बजे के बाद महिलाएं शिव मंदिरों में पहुंची तथा पूजा अर्चना के बाद मंदिर में ही तीज व्रत की कथा का श्रवण किया। प्राचीन समय से चली आ रही परंपराओं का व्रत रखने वाली महिलाओं ने तीज व्रत के दौरान अक्षरश: पालन किया। कई परिवार की महिलाओं ने मंदिर में पूजा अर्चना के बाद घर में ही कथा का सुना। इस मौके पर महिलाओं ने सुहाग के सामानों का दान किया। इस व्रत को रखने वाली महिलाएं गुरुवार की सुबह पारण करेंगी। व्रत धारण करने वाली महिलाएं अखंड सौभाग्य की कामना करती हैं। इनसेट

ग्रामीण इलाकों में परंपरा से मनी तीज

गोपालगंज : जिले के सभी ग्रामीण इलाकों में सुहाग की रक्षा के लिए महिलाओं ने बुधवार को तीज पर्व पर निर्जला व्रत रखा। इस दौरान तीज को लेकर बुधवार को भी बाजार में काफी चहल पहल देखने को मिली। फल की दुकानों पर सुबह से ही लोगों की भीड़ दिखी। व्रत धारण करने वाली महिलाओं ने कई इलाकों में तालाबों में जाकर स्नान किया तथा शिव मंदिरों में पहुंचकर भगवान शंकर तथा गौरी-गणेश की पूजा अर्चना की।

Posted By: Jagran