गोपालगंज : पांच दिन से लगातार हो रही बारिश से परेशानी लोगों को सोमवार को कुछ राहत मिली। सोमवार को बारिश थमने से नवरात्र को लेकर खरीदारी करने के लिए लोग बाजारों में उमड़ पड़े। जिससे शहर से लेकर कस्बाई बाजारों में चहल पहल बढ़ गई। हालांकि पूरे दिन आसपास में बादल उमड़ते रहे। लेकिन बादल बरसे नहीं। जिससे बारिश के कारण पांच दिन से अस्त व्यस्त हो गया जनजीवन कुछ पटरी पर लौट आया। लेकिन आसमान में उमड़ते बादल यह संकेत जरूर देते रहे कि कभी भी बारिश शुरू हो सकती है।

बीते मंगलवार को मौसम का मिजाज अचानक बदल गया। शाम को बारिश शुरू हो गई। बारिश लगातार रविवार की रात तक होती रही। लगातार बारिश होने से जन जीवन अस्त व्यस्त हो गया। बारिश के कारण लोगों के घर से कम निकलने के कारण शहर से लेकर कस्बाई बाजारों सन्नाटे की स्थित बनी रही। इसी बीच सोमवार को बारिश थम गई। बारिश थमने से जनजीवन फिर से पटरी पर लौट आया। पांच दिन से घर से बाहर निकलने से परहेज कर रहे लोग नवरात्र के साथ ही जरुरी सामान खरीदने के लिए घर से बाहर निकल पड़े। जिससे शहर के लेकर कस्बाई बाजारों में चहल पहल बढ़ गई। हालांकि पूरे दिन आसमान में उमड़ते बादल यह संकेत देते रहे कि कभी भी बारिश फिर से शुरू हो सकती है।

इनसेट

बारिश के कारण जिले में आठ करोड़ का व्यवसाय प्रभावित

गोपालगंज : पांच दिन तक हुई लगातार बारिश के कारण जिले में आठ करोड़ से अधिक का व्यवसायी प्रभावित हो गया। सबसे अधिक परेशानी सड़क की पटरियों पर ठेला लगाकर फल सब्जी व खाने पीने का सामान बेचने वालों को हुई। सिटी चैंबर ऑफ कामर्स के जिलाध्यक्ष संजीव कुमार पिकी ने बताया कि पहले पितृ पक्ष के कारण व्यवसाय प्रभावित हुआ। उम्मीद थी कि नवरात्र शुरू होने के साथ बाजारों में रौनक बढ़ जाएगी। लेकिन इसी बीच लगातार बारिश शुरू हो गई। उन्होंनें बताया कि इन पांच दिनों में जिले में आठ करोड़ से अधिक का व्यवसाय प्रभावित हुआ है।

इनसेट

नगर परिषद की पहल से नहीं झेलना पड़ा जलजमाव

गोपालगंज : समय रहते नगर परिषद के चेत जाने से इस बार लगातार पांच दिन तक बारिश होने के बाद भी शहर वासियों को सड़कें पर जलजमाव नहीं झेलना पड़ा। बारिश के साथ ही नालियों से जल की निकासी भी होती रही। नगर परिषद के चेयरमैन हरेंद्र कुमार चौधरी ने बताया कि बरसात में जलजमाव नहीं हो, इसको लेकर नगर परिषद ने पहले से ही तैयारी पूरी कर ली थी। बरसात से पहले की सभी नालियों की सफाई करा दी गई। बारिश के समय भी नालियों की स्थिति पर बराबर नजर रखी गई। उन्होंने बताया कि इस बार शहर वासियों से भी काफी सहयोग मिला। लोगों ने नालियों में कूड़ा कचरा नहीं डाला। जिसके कारण जल निकासी की व्यवस्था ठीक बनी रहने के कारण सड़कों पर जलजमाव नहीं हुआ।

इनसेट

सफाई कर्मियों को रेन कोट देने की मांग

गोपालगंज : लगातार बारिश के बीच भींगते हुए सड़कों की सफाई करने वाले नगर परिषद के सफाई कर्मियों को माले ने रेन कोट देने की मांग की है। माले के जिला सचिव इंद्रजीत चौरसिया ने कहा कि लगातार पांच दिन तक बारिश के कारण जन जीवन अस्त व्यस्त रहा। बारिश के कारण लोग अपने घरों में दुबके रहे। इस बारिश के बीच ही सुबह सफाई कमियों ने भींगते हुए सड़कों पर झाड़ू तथा साफ सफाई का काम करते रहे। उन्होंने नगर परिषद के कार्यपालक पदाधिकारी से सफाई कर्मियों को रेन कोट देने की मांग किया।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप