संवाद सूत्र, कटेया (गोपालगंज) : कटेया थाना क्षेत्र के कटेया-पकहा पथ पर घुर्णा कुंड मंदिर के समीप शुक्रवार को एक तेज रफ्तार बोलेरो ने महिला स्वास्थ्यकर्मी व उनके पुत्र को रौंद दिया। इस हादसे के बाद जख्मी महिला स्वास्थ्यकर्मी व उनके पुत्र को इलाज के लिए स्थानीय अस्पताल में लाया गया। चिकित्सकों ने महिला स्वास्थ्य कर्मी को मृत घोषित कर दिया। वहीं, जख्मी पुत्र का इलाज चल रहा है। महिला स्वास्थ्य कर्मी बेटे का इलाज कराने के लिए जा रही थीं। घटना के बाद पुलिस ने महिला स्वास्थ्यकर्मी के शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल, गोपालगंज भेज दिया।

बताया जाता है कि कटेया थाना क्षेत्र के समोगर गांव निवासी रामअवध जायसवाल की पत्नी सुनीता देवी (45 वर्ष) शुक्रवार को अपने इकलौते पुत्र प्रिस जायसवाल का इलाज कराने के लिए पैदल ही पकहा जा रही थीं। इस दौरान अभी वह अपने बेटे के साथ कटेया-पकहा पथ पर घुर्णा कुंड मंदिर के समीप पहुंची ही थीं, तभी एक तेज रफ्तार से बोलेरो ने दोनों को रौंद दिया। आसपास के लोगों को जुटता देख चालक बोलेरो लेकर फरार हो गया। लोगों ने जख्मी मां-बेटे को इलाज के लिए स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया। चिकित्सकों ने महिला स्वास्थ्यकर्मी सुनीता देवी को मृत घोषित कर दिया। जख्मी बेटे का चिकित्सकों की देखरेख में इलाज चल रहा है। वहीं, घटना की सूचना मिलने के बाद मौके पर पुलिस पहुंची। महिला के पुत्र के बयान पर अज्ञात बोलेरो चालक के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। पुलिस फरार चालक के बारे में पता लगा रही है। महिला की मौत के बाद स्वजन का रो-रोकर हाल-बेहाल है। वहीं, गांव में मातम पसर गया है। बता दें कि सुनीता देवी उत्तर प्रदेश के देवरिया जिला में एक निजी चिकित्सक के यहां कार्यरत थीं।

Edited By: Jagran