गोपालगंज । बैकुंठपुर प्रखंड क्षेत्र के फैजुल्लापुर गांव में बुधवार की सुबह नाद में बांधने के लिए ले जाने के दौरान एक भैंस ने एक किसान को खींच दिया। जिससे गिरने से बचने के लिए किसान ने घर के बाहर लगे विद्युत पोल का स्टैक पकड़ लिया। जिससे करंट लगने से किसान की मौके पर ही मौत हो गई। ग्रामीणों से इस घटना की सूचना मिलने पर मोके पर पहुंची पुलिस ने किसान के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। किसान की मौत से गांव का माहौल गमगीन हो गया है। स्वजनों के चीत्कार से ग्रामीणों की आंखें भी नम हो गईं।

बताया जाता है कि फैजुल्लाहपुर गांव निवासी 45 वर्षीय दशरथ राय बुधवार की सुबह अपनी भैंस को खिलाने के लिए नाद के पास बांधने लगे जा रहे थे। नाद के पास पहुंचने से पूर्व ही भैंस ने रस्सी को जोर से खींच दिया। जिससे किसान दशरथ राय का संतुलन बिगड़ गया। इन्होंने गिरने से बचने के लिए घर के बाजार लगाए गए विद्युत पोल का स्टैक पकड़ लिया। स्टैक में बिजली प्रवाहित होने के कारण किसान करंट की चपेट में आ गए। जिससे इनकी मौके पर ही मौत हो गई। किसान की मौत से गांव में अफरा-तफरी मच गई। ग्रामीणों ने विधुत शक्ति केंद्र बैकुंठपुर में फोन के माध्यम से सूचना देकर तुरंत सप्लाई को बंद कराया। उसके बाद किसान के शव के समीप स्वजन पहुंच सके। ग्रामीणों से सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने किसान के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। किसान की मौत से पूरे गांव का माहौल गमगीन हो गया है। पत्नी मुन्नी देवी के चित्कार से ग्रामीणों की आंखें भी नम हो गईं। अपने पिता की मौत से चार बेटों व तीन बेटियों के आंसू थम नहीं रहे हैं। इस घटना की जानकारी मिलने पर मैके पर पहुंचे प्रखंड प्रमुख पति प्रदीप राय, जिलापरिषद सदस्य सुरेंद्र राय, पंचायत समिति सदस्य उमाशंकर यादव, पूर्व सरपंच विजय कुमार, पूर्व मुखिया विजय ठाकुर, समाजसेवी आनंदशंकर यादव, जयप्रकाश राय, संतोष यादव ने स्वजनों को सांत्वाना देते हुए उनका ढांढस बंधाया।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021