गोपालगंज : दुबई में एक कंपनी में काम करने के दौरान लापता उचकागांव थाना क्षेत्र के परसौनी खास मुसहर बस्ती निवासी एक युवक को शव कैंप कार्यालय के समीप नाला से वहां की पुलिस ने बरामद किया। कंपनी से युवक की मौत की सूचना मिलने पर पूरे गांव का माहौल गमगीन हो गया है। मृतक के परिजनों के चित्कार से उन्हें ढांढस बांध रहे ग्रामीणों की आंखें भी नम हो गईं।

बताया जाता है कि परसौनी खास मुसहर बस्ती गांव निवासी जयराम मांझी का पुत्र 24 वर्षीय अमरजीत मांझी दुबई के जिको दुबई एलएलसी कंस्ट्रक्शन कंपनी में सरिया फिटर का काम करता था। तीन साल तक काम करने के बाद युवक तीन महिने के लिए अवकाश पर घर आने के बाद फिर तीन महीना पहले दुबई काम पर चला गया। इसी बीच 20 सितंबर को वह अपने कंपनी के कैंप से लापता हो गया। लापता होने के दो दिन बाद अमरजीत मांझी ने फोन कर अपने परिवार के सदस्यों से बातचीत किया। लेकिन इसके बाद परिजनों को उससे फिर संपर्क नहीं हो पाया। इसी बीच 27 सितंबर को अमरजीत का शव कैंप से तीन किलोमीटर एक नाला से दुबई की पुलिस ने बरामद किया। युवक की मौत ही जानकारी शनिवार को परिनजों को मिली। युवक की मौत की जानकारी मिलते ही पूरे गांव का माहौल गमगीन हो गया। अमरजीत मांझी की मौत होने से उसकी बासमती देवी, पिता जयराम मांझी, भाई जितेंद्र मांझी, बीरबल मांझी, मंगल कुमार, बहन मालावती देवी का रो रो कर बुरा हाल है। परिजनों के चित्कार से ढांढस बांध रहे ग्रामीणों की आंखें भी नम हो गईं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस