जागरण संवाददाता, गोपालगंज : दो दिनों तक तेज धूप निकलने व उमस भरी गर्मी के बाद बुधवार की शाम से अचानक मौसम का मिजाज बदल गया। बुधवार को आधी रात के बाद आसमान में उमड़ रहे काले बादल आखिरकार बरसने लगे। बुधवार को आधी रात के बाद शुरु हुई बारिश गुरुवार को पूरे दिन जारी रही। इस बीच कभी तेज तो कभी बूंदाबंदी के कारण दिन का तापमान अचानक गिर गया। पूरे दिन बारिश होने के कारण शहर के कई इलाकों में जन-जमाव की स्थिति पैदा हो गई। ग्रामीण इलाकों के भी हाट बाजारों में बारिश के कारण कीचड़ की स्थिति पैदा हो गई। बारिश व हवा के झोंके के बीच उमस भरी गर्मी से लोगों को राहत मिल गई।

पिछले सप्ताह हुई बारिश के बाद गर्मी का असर बढ़ गया था। दो दिनों तक तेज धूप व उमस भरी गर्मी के कारण लोगों की परोशानी बढ़ गई थी। लेकिन बुधवार से जिले में मौसम का मिजाज अचानक बदल गया। आधी रात के बाद बूंदा-बांदी प्रारंभ होने के बाद गुरुवार की तड़के से जोरदार बारिश प्रारंभ हो गई। इस बीच कभी तेज को कभी हल्की बारिश का दौर पूरे दिन जारी रहा। इस बीच पूरे दिन सूर्य देवता के दर्शन नहीं हुए। गुरुवार को पूरे दिन हुई बारिश के कारण शहर से लेकर ग्रामीण इलाके के हाट-बाजारों में सड़क किनारे कचरा पसर गया। बारिश के कारण शहर के कई इलाकों में मोहल्लों की सड़कों पर जल भराव का नजारा दिखा। हालांकि इस बारिश से गन्ने व सब्जी की फसल को फायदा हुआ, लेकिन आम की फसल को बारिश व तेज हवा के झोंके के कारण नुकसान हुआ है। कई इलाकों में हवा के झोंके के कारण आम के फल जमीन पर गिर पड़े। बारिश के कारण जिला मुख्यालय के राजेंद्र बस स्टैंड में कचरे का साम्राज्य कायम हो गया। अलावा इसके नगर परिषद कार्यालय तथा मिज स्टेडियम की ओर जाने वाले पथ में पानी जमा हो जाने के कारण लोगों को आने-जाने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा। शहर के कई मोहल्लों की गलियों में भी जल जमाव की स्थिति पैदा हो गई। जिससे लोगों को परेशानी से जूझने को विवश होना पड़ा। इनसेट

बारिश के कारण विद्युत आपूर्ति रही बाधित

गोपालगंज : बुधवार को आधी रात के बाद बारिश प्रारंभ होने के साथ ही जिले के कई इलाकों में विद्युत आपूर्ति बाधित रही। जिला मुख्यालय में भी रुक-रुक कर कुछ देर के लिए विद्युत आपूर्ति की गई। जिले के मांझा प्रखंड में बुधवार को आधी रात के बाद से लगातार दस घंटे तक विद्युत आपूर्ति ठप रही। जिले के अन्य प्रखंडों में भी बारिश व हवा के झोंके के कारण विद्युत आपूर्ति पर असर पड़ा। जिसके कारण लोगों को परेशानी हुई। विद्यालयों में ऑनलाइन कक्षा संचालन को देखते हुए विद्युत आपूर्ति ठप रहने के कारण छात्रों को परेशानियों से जूझना पड़ा।

Edited By: Jagran