गोपालगंज : जिले में लगातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के आंकड़े को देखते हुए पिछले चौबीस घंटे के दौरान 246 नए माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाए गए हैं। नए कंटेनमेंट जोन में प्रशासनिक स्तर पर पाबंदियों को लागू कर दिया गया है। साथ ही नए कंटेनमेंट जोन में कोरोना संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आए लोगों की पहचान कर उनकी भी जांच कराने के निर्देश दिए गए हैं।

जानकारी के अनुसार डीएम डॉ. नवल किशोर चौधरी ने जिले के 14 प्रखंडों में एक ही दिन में 246 माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाने का आदेश दिया है। जिले में एक ही दिन में इतनी अधिक संख्या में माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाने का यह पहला मामला है। प्रशासनिक आंकड़ों के अनुसार सबसे अधिक 64 कंटेनमेंटन जोन हथुआ प्रखंड में बनाए गए हैं। इसके अलावा गोपालगंज में 61, उचकागांव, थावे व बैकुंठपुर में 18-18, भोरे प्रखंड में 13, बरौली में 17 व कुचायकोट में 12 माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाए गए हैं। आंकड़ों के अनुसार विजयीपुर में तीन, कटेया में छह, फुलवरिया में दो, मांझा में आठ, पंचदेवरी में एक व सिधवलिया में पांच माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाए गए हैं। डीएम ने माइक्रो कंटेनमेंट जोन में सिर्फ मरीज के घर के आसपास की गली-मोहल्ले को कंटेनमेंट जोन घोषित करने का निर्देश दिया है। जोन में सभी निजी व सार्वजनिक प्रतिष्ठान व मार्ग को अगले आदेश तक पूर्णतया बंद रखने को कहा गया है। इस बीच इस जोन से किसी भी व्यक्ति को न तो बाहर जाने की इजाजत होगी और न ही किसी व्यक्ति को इस क्षेत्र में आने की अनुमति दी जाएगी। इस क्षेत्र में आवागमन पूरी तरह से बंद रहेगा। बीडीओ जोन के अंदर निगरानी के लिए स्टैटिक दंडाधिकारी की प्रतिनियुक्ति करेंगे।