टिकारी (गया), संवाद सहयोगी। भारत नेट द्वारा संचालित सीएससी वाई-फाई चौपाल भारत सरकार की ई-ग्राम स्वराज योजना का हिस्सा है। इसके तहत सभी राजस्व गांव में सीएससी द्वारा ग्रामीण स्तर पर इंटरनेट उपलब्ध कराने का कार्य जारी है। साथ ही योजना अंतर्गत सीएससी के द्वारा वाई-फाई चौपाल के माध्यम से इंटरनेट सुविधा मुहैया करवाई जा रही है। टिकारी के 22 पंचायतों में से 20 पंचायतों में फाइबर टू होम तकनीक द्वारा सीएससी को जोड़ दिया गया है।

इस संबंध में जिला चैम्पियन ग्राम स्तरीय उद्यमी नवलेश कुमार ने बताया कि टिकारी प्रखण्ड में खनेटु और रूपसपुर पंचायत को छोड़कर सभी 20 पंचायतों में सीएससी वाईफाई चौपाल योजना शुरू हो गया है। पंचायत अंतर्गत सभी राजस्व गांवों में पांच सरकारी संस्थाओं को एक वर्ष के लिए निःशुल्क वाईफाई इंटरनेट सुविधा देने का कार्य युद्ध स्तर पर किया जा रहा है।

डिजिटल इंडिया प्‍लान के तहत वाई-फाई चौपाल के माध्‍यम से ग्रामीण पंचायतों में निर्बाध इंटरनेट कनेक्टिविटी प्रदान की जा रही है। सीएससी ई-गवर्नेंस सर्विसेज इंडिया लिमिटेड की इस महत्वाकांक्षी पहल का उद्देश्य ग्रामीणों को गांव-गांव में इंटरनेट की सुविधा देना है, जिससे गांव के लोग भी इंटरनेट के सहारे देश-दुनिया की जानकारियां  हासिल कर सके। डिजीटल इंडिया के तहत हर पंचायत को वाईफाई बनाने की पहल शुरू हो गई है। ग्रामीणों को यह सुविधा कॉमन सर्विस सेंटर (सीएससी) के माध्यम से प्रदान की जा रही है।

जिला उद्यमी कुमार ने बताया कि टिकारी प्रखंड क्षेत्र में अभी तक लगभग 150 संस्थानों को वाई-फाई से जोड़ दिया गया है। इस कार्य मे सेवानिवृत्त बीएसएनएल कर्मी गया प्रसाद, टेक्नीशियन सतेंद्र कुमार, मंटू कुमार, निखिल कुमार आदि लगे हैं। उन्होंने यह भी बताया कि इच्छुक लोगों को हाई स्पीड का इंटरनेट कनेक्शन भी सशुल्क दी जा रही है।

Edited By: Sumita Jaiswal