जागरण संवाददाता, औरंगाबाद। बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ( Bihar School Examination Board) की ओर से पहली फरवरी (1st February) से आयोजित की जाने वाली इंटरमीडिएट की परीक्षा को लेकर कई गाइडलाइन जारी किए गए हैं। गाइडलाइन में 32 बिंदुओं पर बेहतर तरीके से अमल करने का निर्देश जिला शिक्षा पदाधिकारी (District Education Officer) विद्यासागर ने दिया है।

जूता पहनकर नहीं आएंगे परीक्षार्थी

जारी आदेश पत्र में डीइओ ने लिखा है कि सभी केंद्राधीक्षक परीक्षार्थियों के बैठने संबंधी सीट प्लान की एक प्रति भवन के मुख्य द्वार, एक ब्लैक बोर्ड एवं एक प्रति सूचना पट्ट पर लगाएंगे। परीक्षा कक्ष के अंदर मीडियाकर्मी के प्रवेश पर पूर्णत: प्रतिबंध रहेगा। परीक्षा कक्ष में कोई भी परीक्षार्थी एवं वीक्षक मोबाइल लेकर नहीं जाएंगे। केंद्राधीक्षक के सहयोग के लिए जो भी शिक्षक सुरक्षित वीक्षक एवं अन्य कर्मी उपस्थित रहेंगे वे अपने पास मोबाइल नहीं रखेंगे। परीक्षा कक्ष के अंदर जूता व मोजा पहनकर परीक्षार्थी प्रवेश नहीं करेंगे। केवल चप्पल पहनकर ही अंदर जा सकेंगे। 

 

सीसीटीवी से होगी परीक्षा की निगरानी

इंटरमीडिएट परीक्षा की सारी गतविधियाें की निगरानी सीसीटीवी कैमरे से होगी। प्रश्‍नपत्र खोलने से लेकर परीक्षा तक की निगरानी इससे होगी। परीक्षा केंद्र के बाहर भी सीसीटीवी लगाया जाएगा। केंद्राधीक्षक इस पर निगरानी करते रहेंगे।परीक्षा के दौरान सभी केंद्रों पर धारा 144 लागू रहेगी। परीक्षा केंद्र से 100 मीटर की दूरी तक कोई भी मौजूद नहीं रहेगा। केंद्र के आसपास की सभी फोटोकॉपी करने वाली दुकाने बंद रहेगी। आदेश का अनुपालन नहीं करने वालों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। केंद्र के आसपास रहने वाले अभिभावकों पर भी कार्रवाई होगी। जुर्माना वसूलते हुए कड़ी कार्रवाई की जाएगी। 

 

एक बेंच पर बैठेंगे दो परीक्षार्थी,रहेगी दो गज की दूरी

कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए एक बेंच पर दो परीक्षार्थिेयों के बैठने की व्‍यवस्‍था होगी। दोनों के बीच दो गज की दूरी होगी। सभी परीक्षार्थी मास्क लगाकर ही केंद्र पर पहुंचेंगे। बिना मास्क लगाए परीक्षार्थी को कक्ष के अंदर नहीं जाने दिया जाएगा। परीक्षार्थियों के पास किसी प्रकार का आपत्तिजनक समान नहीं होनी चाहिए। अगर कोई आपत्तिजनक समान पकड़ा जाता है तो उसको निलंबित कर दिया जाएगा। जिला शिक्षा पदाधिकारी ने बताया कि तैयारियां पूरी की जा रही है। गाइडलाइन का पालन करते हुए परीक्षा संपन्न कराया जाएगा। लापरवाही बरतने वाले कर्मियों पर कार्रवाई की जाएगी।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप