जागरण संवाददाता, गया : गया नगर निगम में मेयर, उप महापौर व पार्षद पदों के लिए शुक्रवार को अभ्यर्थियों की भीड़ लगी रही। कड़ी सुरक्षा व्यवस्था और जांच-पड़ताल करने के बाद अभ्यर्थी, प्रस्तावक और समर्थक नामांकन स्थल में प्रवेश किए। शुक्रवार को प्रारंभिक में नामांकन दाखिल करने वालों की कम भीड़ देखी गई। लेकिन जैसे-जैसे दिन ढलता गया। अभ्यर्थियों का तांता लगा रहा। पार्षद पद के लिए 63, महापौर 07 एवं 04 उप महापौर पद के लिए अभ्यर्थियों ने नामांकन पत्र दाखिल किए हैं। 

नामांकन पत्र दाखिल करने का अंतिम दिन

गुरुवार को पार्षद के लिए 64, उप महापौर 01 एवं मेयर पद के लिए पांच नामांकन पत्र दाखिल किया गया है। शनिवार को नामांकन पत्र दाखिल करने की अंतिम दिन है। इस कारण से अभ्यर्थियों की भीड़ लगेगी। चर्चा है कि अंतिम दिन पूर्व विधायक, जिला परिषद के पूर्व अध्यक्ष, निर्वतमान पार्षद भी नामांकन पत्र दाखिल करने के लिए विकास भवन पहुंचेंगे। जो मेयर पद के लिए नामांकन पत्र दाखिल करेंगे। इस कारण से सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है। सोमवार एवं मंगलवार को इन पदों के लिए नामांकन पत्रों की जांच की जाएगी। 

बोधगया में उप मुख्य पार्षद अभ्यर्थी ने नाम लिया वापस गया

नगर परिषद बोधगया के नाम वापसी के दूसरे दिन शुक्रवार को उप मुख्य पार्षद पद के एक अभ्यर्थी ने नाम वापस ली है। शनिवार को नाम वापस लेने का अंतिम दिन है। वहीं, पार्षद पर गुरुवार को दो और शुक्रवार को चार अभ्यर्थियों ने नाम वापस लिए थे। 

कोतवाली पुलिस तलाश रही निर्वतमान पार्षद को गया: 

गया नगर निगम नामांकन स्थल पर कोतवाली थाना की पुलिस तैनात रही। पुलिस पदाधिकारी ने बताया कि सिविल लाइन्स थाना कांड 289-20 मामले में गया नगर निगम के वार्ड संख्या-08 के निर्वतमान पार्षद मनोज कुमार उर्फ बूलबूल साव के खिलाफ गया व्यवहार न्यायालय से बीते 3 सितंबर 22 को गिरफ्तारी वारंट निर्गत है। उस वारंट की तामिला कराने और आरोपित निर्वतमान पार्षद के गिरफ्तार करने के लिए नामांकन स्थल पहुंचे। लेकिन कोतवाली थाना की पुलिस के आने सूचना के कारण निर्वतमान पार्षद नहीं पहुंचे। सूचना यह मिली कि निर्वतमान पार्षद की पत्नी ने उक्त वार्ड से नामांकन पत्र दाखिल की है।

Edited By: Prashant Kumar pandey

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट