पकरीबरावां (नवादा), संवाद सूत्र। प्राथमिक विद्यालय केशोचक के जर्जर भवन की छत का प्लास्टर गिरने से पांचवीं कक्षा का छात्र जख्मी हो गया। जिसका इलाज गांव के ही निजी चिकित्सक के यहां कराया गया। घटना गुरुवार को हुई।

बताया जाता है कि विद्यालय के शिक्षक टिंकु कुमार कक्षा पांचवीं में बच्चों को पढ़ा रहे थे। तभी छत का कुछ हिस्सा संजय चौधरी के पुत्र अंकित कुमार पर आ गिरा। जिसमें वह जख्मी हो गया। प्लास्टर गिरने के बाद विद्यालय के बच्चे आनन फानन में कक्षा से भागने लगे। बाद में विद्यालय के शिक्षकों के सहयोग से जख्मी बच्चे का इलाज ग्रामीण चिकित्सक से कराया गया।

इस बाबत विद्यालय के प्रधानाध्यापक उमेश कुमार ने बताया कि विद्यालय का भवन काफी जर्जर है। इसकी लिखित जानकारी विभाग के वरीय अधिकारियों को दी जा चुकी है। हाल ही में बीइओ प्रमोद कुमार झा विद्यालय का निरीक्षण किया था। निरीक्षण के उपरांत उन्होंने विभाग को जर्जर भवन के संदर्भ में लिखित जानकारी भी दी थी, लेकिन मामला यथावत रहा। इस जर्जर भवन में बच्चे अब पठन-पाठन से कतराने लगे हैं। जिसके कारण शिक्षण कार्य पर प्रभाव पड़ सकता है।

'स्कूल चलो अभियान' रैली आयोजित

नवादा जिला के रजौली में शिक्षा से वंचित बच्‍चों एवं उनके अभिभावकों में जागरूकता पैदा करने के उद्देश्य से गुरुवार को रजौली प्रखंड के सिरोडाबर पंचायत के सिरोडाबर एवं बलिया गांव में 'हैंड इन हैंड इंडिया' एवं जौकनिक फाउंडेशन के सौजन्य से स्थानीय बाल मंच एवं चाइल्ड लर्निंग सेंटर के बच्‍चों द्वारा 'स्कूल चलो अभियान' रैली निकाली गई।

रैली में शामिल बच्‍चों ने अपने हाथों में स्‍लोगन लिखी पट्टिकाएं लेकर घर-घर जाकर लोगों को जागरूक किया। मौके पर परियोजना समन्वयक निलेश कुमार ने बताया कि लंबे अरसे बाद बिहार में एक बार फिर से विद्यालय का संचालन शुरू हुआ है। अत: नए सिरे से सभी बच्‍चों को शिक्षा से जोडऩे की आवश्यकता है। हमारा समाज व क्षेत्र तभी उन्नति करेगा, जब सभी लोग साक्षर होंगे। क्योंकि जीवन में उन्नति व प्रगति के लिए साक्षरता सर्वोपरी है। मौके पर परियोजना कर्मी महेश चौधरी, रितेश रंजन, संगीता देवी, रंजीत कुमार, सीएलसी शिक्षक रघुनंदन राजवंशी समेत अन्य गणमान्य लोग उपस्थित थे।

 

Edited By: Sumita Jaiswal