सासाराम (रोहतास), जागरण संवाददाता। कोरोना संक्रमण काल में जेल भेजे जा रहे कैदियों से संक्रमण फैलने की आशंका को देखते हुए जिला के बिक्रमगंज उपकारा को क्वारंटाइन जेल (Quarantine Jail) बनाया गया है। जेल आइजी (Jail IG) मिथिलेश मिश्र के निर्देश पर बिक्रमगंज उपकारा को शहाबाद के चार जिला रोहतास, बक्सर, भोजपुर और कैमूर के लिए क्वांरटाइन जेल बनाया गया है। उक्त चारों जिलों से गिरफ्तार किए गए बंदियों को 14 दिनों के लिए बिक्रमगंज जेल में रखा जाएगा। 14 दिनों की अवधि बीत जाने के बाद ही बंदी को उसके मूल जिला के जेल में भेजा जाएगा। 

पहले संक्रमण काल में भी बना था क्‍वारंटाइन जेल

मंडल कारा सासाराम के जेल अधीक्षक राकेश कुमार ने बताया कि सासाराम जेल में भी सुरक्षा के लिहाज से सात वार्डों को क्वारंटाइन वार्ड बनाया गया है। बिक्रमगंज से क्वारंटाइन की अवधि पूरा कर मंडल कारा आने वाले बंदियों को पहले सात दिनों तक उक्त वार्ड में रखा जाएगा। विदित हो कि बिक्रमगंज उपकारा को पहले कोरोना काल में क्वारंटाइन जेल बनाया गया था। कोरोना संक्रमण का प्रभाव लगभग खत्म हो जाने के बाद गत फरवरी माह से क्वारंटाइन जेल की व्यवस्था समाप्त कर दी गई थी। दूसरी बार कोरोना संक्रमण के फैल रहे लहर को देखते हुए सरकार के निर्देश पर फिर से इस व्यवस्था को लागू की गई है।

बार संघों ने 25 अप्रैल तक न्यायिक कार्य नहीं करने का लिया निर्णय

जिले में कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रभाव के मद्देनजर आगामी 25 अप्रैल तक  स्थानीय बार संघों ने सर्वसम्मति से अपने आप को न्यायिक कार्यो से अलग करने का निर्णय लिया है। अब आगामी 25 अप्रैल तक अधिवक्ता कोर्ट में न्यायिक कार्य के लिए नहीं आएंगे। इस दौरान बार संघ भवन को भी बंद रखने का निर्णय लिया गया है।रोहतास जिला विधिज्ञ संघ के महासचिव कामेश्‍वर सिंह व रोहतास बार एसोसिएशन के महासचिव अंगद सिंह ने सोमवार को संयुक्त रूप से विज्ञप्ति जारी करते हुए जिला जज को अपने निर्णय का ज्ञापन सौंपा है । 

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021