गया । भाजपा के वरिष्ठ नेता सह पूर्व केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने शनिवार को गया के विष्णुपद परिसर में पिंडदान किया। उन्होंने अपने पूर्वजों के आत्मा की शांति और मोक्ष की कामना को लेकर पूरी श्रद्धा से पिंडदान किया। उसके बाद उन्होंने जगत के पालनहार भगवान श्रीहरि चरण की पूजा-अर्चना की।

पूर्व केंद्रीय मंत्री ने हृदय योजना से बनाए गए सीताकुंड की रमणीक स्थल का जायजा लिया। यहां की व्यवस्था देख काफी प्रसन्न हुई। उन्होंने प्राचीन, ऐतिहासिक व धार्मिक सीताकुंड के बारे में जानकारी ली। उन्होंने कहा कि इस पवित्र स्थल के बारे में बहुत चर्चा सुने थे। पूर्व की सरकार के कार्यकाल में यह स्थल उपेक्षित था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की गया के प्रति आस्था और विश्वास के कारण ऐसे ऐतिहासिक धार्मिक स्थल का लुक बदला है। पूर्व की सरकार ने इसे उपेक्षित कर दिया था। अब देश व विदेशों से आने वाले पिंडदानी स्वच्छ वातावरण में अपने पितरों का कर्मकांड कर रहे हैं। यह गयावासियों के लिए गर्व की बात है। उन्होंने अक्षयवट स्थल का भी जायजा लिया। यहां भी हृदय योजना के तहत विकास कार्य बहुत तेजी से चल रहा है, लेकिन इधर कुछ दिनों से पितृपक्ष मेला के कारण अक्षयवट में कार्य बंद है। उन्होंने कहा कि पूरी तरह तैयार होने पर यह स्थल और रमणीक हो जाएगा। यही वजह है कि मोदी सरकार लगातार गया और बोधगया की महत्ता को देखते हुए हर संभव सहयोग कर रही है। यह हमारी धरोहर है। केंद्र सरकार अपना कार्य कर रही है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप