गया, जागरण संवाददाता। मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार ने महत्‍वाकांक्षी गंगा जल आपूर्ति योजना का उद्घाटन सोमवार को किया। इस आयोजन में बिहार सरकार के कई मंत्री व महागठबंधन के दलों के विधायक व नेता पहुंचे। डिप्‍टी सीएम तेजस्‍वी यादव भी कार्यक्रम में शामिल हुए। लेकिन उनकी भावभंगिमा जैसी रही, उससे चर्चा तेज हो गई है।जानकारों का कहना है कि तेजस्‍वी पूरे कार्यक्रम के दौरान बुझे-बुझे दिख रहे थे। साथ ही उद्घाटन समारोह में राजद के जिलास्‍तरीय कार्यकर्ताओं की भी कमी दिख रही थी। 

कार्यकर्ताओं की भी दिख रही थी कमी 

मालूम हो कि गया में सोमवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गंगा जल आपूर्ति योजना का शुभारंभ किया। उद्घाटन को लेकर गया और बोधगया में 5 स्थानों पर प्‍वाइंट बनाए गए थे जहां मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री ने गंगाजल ग्रहण किया। लेकिन इस दौरान तेजस्वी प्रसाद यादव के हाव-भाव में वह तेजी नहीं दिख रही थी जो अक्‍सर दिखती है। वे मुख्यमंत्री के पीछे पीछे चल रहे थे। उद्घाटन के अवसर पर राजद के जिला स्तरीय कार्यकर्ता भी कम थे। राजद के जिला अध्यक्ष भी उद्घाटन के अवसर पर कहीं दिखाई नहीं दिए।

तीन मंत्री भी गया शहर के कार्यक्रम में नहीं रहे मौजूद

इसकी वजह क्या रही, कहा नहीं जा सकता है। खास बात यह कि गया शहर में इसी दिन बिहार सरकार के तीन मंत्री मौजूद थे ले‍किन उद्घाटन के अवसर पर वे भी दिखाई नहीं पड़ रहे थे। ना तो सहकारिता मंत्री डॉ सुरेंद्र प्रसाद यादव ना ही कृषि मंत्री कुमार सर्वजीत एवं सुमन कुमार मांझी भी मानपुर से लेकर गया तक दिखाई नहीं पड़ रहे थे। ये मंत्री हालां‍कि बोधगया में आयोजित कार्यक्रम में मौजूद थे। लेकिन गया शहर आयोजित कार्यक्रम में उनका शामिल नहीं होना कई सवाल खड़े कर गया। 

हालांकि राजद के जिला अध्यक्ष मुर्शीद आलम का कहना है कि कार्यक्रम में राजद के सभी कार्यकर्ता मौजूद थे। लेकिन उद्घाटन स्थल पर भीड़ भाड़ रहने के कारण राजद के लोग दूर खड़े थे। मुख्यमंत्री और उप मुख्यमंत्री के पटना प्रस्थान के अवसर पर एयरपोर्ट पर काफी कार्यकर्ता मौजूद थे।

Edited By: Vyas Chandra

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट