संवाद सहयोगी, टिकारी : दक्षिण बिहार केंद्रीय विश्वविद्यालय, पंचानपुर में विधि संकाय के छात्रों का आदोलन तीसरे दिन मंगलवार को भी जारी रहा। संकाय के आदोलनकारी छात्र अब भी विवि चीफ प्रॉक्टर को हटाने की मांग पर अड़े हुए हैं। वह प्रशासनिक भवन के समक्ष तख्ती लेकर धरना पर बैठे रहे।

कुलपति ने आदोलनकारी छात्रों को प्रतिनिधिमंडल के रूप में वार्ता के लिए बुलाया था। कुलपति ने प्रतिनिधिमंडल को बताया कि पूरे मामले की जाच के लिए गठित समिति की रिपोर्ट आ जाने दीजिए। उसके बाद जो भी दोषी होंगे उनके विरुद्ध अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी। कुलपति के इस प्रस्ताव को प्रतिनिधिमंडल ने ठुकरा दिया। अपने आदोलन को अनिश्चितकाल के लिए जारी रखने की छात्रों के बीच घोषणा कर दी। आदोलनकारी छात्रों का कहना है कि गठित जाच कमेटी में अधिकाश सदस्य प्रोक्टोरियल के हैं। ऐसे में निष्पक्ष जाच नहीं हो सकती।

विवि प्रशासन के अनुसार, कला संकाय के छात्रों के एक गुट ने अपना आदोलन वापस ले लिया है। कला संकाय के सभी सत्रों का मंगलवार को सुचारू ढंग से वर्ग संचालन शुरू हो गया। विधि संकाय एवं राजनीति शास्त्र के स्नातकोत्तर विभाग के छात्रों द्वारा कुलपति के नाम से दिए गए आवेदन के आलोक में स्वतंत्र जांच समिति सच्चाई का पता लगाकर रिपोर्ट सौंपेगी। जाच समिति द्वारा स्नातकोत्तर के छात्रों के बयान कलमबद्ध कर लिए गए हैं। विधि संकाय के छात्र सूचना देने के बाद भी अपना पक्ष रखने को राजी नहीं हुए। उन्हें रिमाइंडर भी भेजा गया है और बुधवार को पक्ष रखने का एक और अंतिम मौका दिया गया है।

-------

आज सौंपी जाएगी रिपोर्ट

जांच समिति के एक सदस्य ने बताया कि बुधवार को समिति को मिले तथ्य और प्रमाण का अवलोकन व समेकित कर कुलपति को रिपोर्ट सौंप दी जाएगी।

Posted By: Jagran