गया। शहर में कई सड़कों को पाइपलाइन बिछाने के लिए बुडको ने काटकर छोड़ दिया है। इससे कारण सड़क पर पैदल चलना मुश्किल हो गया है। बुधवार को शहर में हुए वर्षा ने सड़कों की सूरत बदल दी। सड़क पूरी तरह से कीचड़ में बदल गयी है। बुडको ने शहर के दक्षिणी क्षेत्र में सड़क शहर को खोदकर छोड़ा है। इससे आमलोगों के साथ तीर्थयात्रियों को सड़क पर पैदल चलने में परेशानी हो रही है। सड़क की सबसे खराब स्थित रामसागर तलाब के पास बोधगया सड़क मार्ग की है। वर्षा होने के कारण सड़क कीचड़ में बदल गया है। सड़क पर फिसलन होने के कारण लोगों को चलने में काफी परेशानी हो रही है। कीचड़ के कारण थोड़ी सी असावधानी में सड़क पर बड़ी घटना घट सकती है। चांद-चौरा मोहल्ला निवासी राजीव कुमार ने कहा कि वर्षा होने से सड़क पर पड़े मिट्टी का ढेर कीचड़ में बदल गया है। इससे घर से बाहर निकलने में काफी परेशानी हो रही है। कभी भी सड़क पर पैर फिसल सकता है। वर्षा होने से सड़क पर आवागमन बंद

बुडको की मनमानी एवं लापरवाही से शहर के लोग चार वर्ष से परेशान हैं। पाइपलाइन बिछाने के नाम सड़क को काटकर तहस-नहस कर दिया है। यही हाल शाहमीर तक्या मोहल्ला स्थित विष्णुपद जाने वाली सड़क की है। सड़क को एक महीने से अधिक दिनों से काटकर छोड़ दिया है। वर्षा होने से सड़क बंद हो गया है, क्योंकि गड्ढ़ा पानी से भर गया है। साथ ही सड़क कीचड़ में बदल गया है। थोड़ी सी असावधानी में बड़ी घटना से इंकार नहीं किया जा सकता है। वर्षा ने सड़क की दुर्गति निकाल कर रख दी है। इसके बावजूद बुडको ने पदाधिकारी सड़क की मरम्मत करने का नाम ही नहीं ले रहे हैं। सड़क पर गिरने से लोग हुए जख्मी

शहर के मध्य भाग स्थित बारी रोड का भी बुरा हाल है। बुडको ने पाइपलाइन बिछाने के नाम पर सड़क को कई महीने से काटकर छोड़ दिया है। वर्षा होने से कई लोग सड़क पर गिरे हैं। सड़क पर गड्ढे में पानी भरा रहने दिखाई नहीं पड़ता है। मोहल्ला निवासी अशोक कुमार ने कहा कि पानी में गड्ढा दिखाई नहीं देने के कारण कई लोग गिरकर जख्मी हुए हैं। वहीं सड़क पर मिट्टी रहने से कीचड़ में बदल गया है। इसके अलावा और कई सड़क डेल्हा स्थित टिकारी रोड, राजेंद्र आश्रम, गेवाल बिगहा आदि स्थानों पर सड़क को काटकर छोड़ दिया है।

Edited By: Jagran