जागरण संवाददाता :सासाराम , रोहतास। शनिवार की रात सासाराम शहर में अचानक पुलिस की बढ़ी मुस्तैदी के कारण फिजा बदली-बदली सी नजर आने लगी। पता चला कि जिले के पुलिस कप्तान आशीष भारती रात के वक्त पुलिस गश्ती का जायजा लेने खुद सड़क पर उतर आए हैं। इससे जहां अवैध गतिविधियों में लगे बदमाशों में हड़कंप मच गया, वहीं नाइट पेट्रोलिंग के बहाने चौराहों पर चाय की चुस्की लेने के आदी पुलिसकर्मियों की बेचैनी भी बढ़ गयी।

दरअसल बरसात व जाड़े के मौसम में शाम ढलते ही सड़कों पर सन्नाटा पसर जाता है, जिसका लाभ उठाते हुए अपराधी अपने इरादतन अपराध को अंजाम दे डालते हैं। सेंधमारी से लेकर छिनैती, लूट व डकैती सहित हथियार व मादक पदार्थों की तस्करी जैसे 90 फीसदी अपराध रात के अंधेरे में होते हैं। ऐसे में अपराधियों के मंसूबे को नाकाम करने के लिए पुलिस गश्त करती है, लेकिन गश्त की मानिटरिंग भौतिक तौर पर बिरले ही देखने को मिलती है।

आम अवाम में बढ़ा सुरक्षा बोध, सियासी गलियारों में भी रही चर्चा:-

शनिवार की देर शाम जिला मुख्यालय के पोस्ट ऑफिस चौक पर जो नजारा दिखा, उसकी चर्चा जिले के आम-अवाम सहित सियासी गलियारे तक जा पहुंची। पहले तो इस बात की चर्चा होने लगी कि शायद कोई बड़ा इनपुट पुलिस के हाथ लगा है और बड़ी सफलता के लिए पुलिस हरकत में है। इसके लिए दो पहिया से लेकर चारपहिया तक खंगालने जा रहे हैं। पुलिस ने अचानक वाहन चेकिंग अभियान चलाया तो हड़कंप मच गया। ऑन ड्यूटी पुलिस अधिकारी सहित शहर के कोतवाल भी हरकत में दिख रहे हैं।

चर्चा के बीच ही खबर मिली कि पुलिस कप्तान रात के वक्त शहर के मुख्य चौराहे पर आ धमके हैं। कई छोटे साहब भी साथ में हैं। इससे यह संदेश भी गया कि अब रात्रि गश्त में लापरवाह पुलिसकर्मियों की खैर नहीं है।

Edited By: Sumita Jaiswal