जागरण संवाददाता, सासाराम : रोहतास। अग्निपथ योजना के विरोध में लगभग डेढ़ माह पूर्व शहर में तोड़-फोड़, आगजनी व हिंसक घटनाओं को अंजाम देने वाले उपद्रवियों की तलाश अब भी पुलिस को है। पुलिस गिरफ्त से बाहर चिन्हित उपद्रवियों का फोटोयुक्त पोस्टर करगहर रोड मोड समेत शहर के विभिन्न चौक चौराहों पर लगाया गया है। साथ ही पुलिस ने आमलोगों से भी उपद्रवियों की गिरफ्तारी में सहयोग करने की अपील की गई है।

सासाराम नगर थानाध्यक्ष एसके सिन्हा ने बताया कि अग्निपथ योजना के विरोध में डेढ़ माह पूर्व 17 जून को शहर के विभिन्न स्थानों पर हुई तोड़-फोड, आगजनी व हिंसक घटनाओं में शामिल उपद्रवियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस कटिबद्ध है। इस मामले में 48 नामजद समेत पांच सौ से अधिक अज्ञात उपद्रवियों के विरूद्ध प्राथमिकी दर्ज की गई थी। जिसमें से पुलिस नामजद 48 उपद्रवियों को शहर के राजपुत कालोनी मोहल्ला स्थित एक लाज से छापेमारी कर गिरफ्तार की थी। 

वैसे उपद्रवी जो अबतक फरार रहे हैं, उनकी पहचान सीसीटीवी व अन्य इंटरनेट मीडिया के माध्यम से कर गिरफ्तार करने की कार्रवाई में पुलिस जुट गई है। जिन उपद्रवियों की पहचान अभी तक हो पाई है, उनसे संबंधित पोस्टर शहर के प्रमुख चौक-चौराहों पर चिपकाया गया है। साथ ही आम लोगों से भी सहयोग करने की अपील की गई है।बताते चले कि इस मामले में अभी तक जिन उपद्रवियों को पुलिस गिरफ्तार करने में सफल रही है, उसमें से अधिकतर को रेल पुलिस व रेलवे सुरक्षा बल ने रिमांड पर लेकर उन्हें गया जेल भेज दिया है।

कारण कि तोड-फोड़ के इस मामले में सासाराम नगर के अलावा रेल पुलिस व आरपीएफ थाना में अलग-अलग प्राथमिकी दर्ज की गई है। हालांकि सासाराम नगर पुलिस द्वारा गिरफ्तार 48 उपद्रवियों में से कई को यहां के जिला एवं सत्र न्यायालय से जमानत भी मिली हुई है, परंतु रिमांड पर होने के कारण उन्हें अभी तक जेल से रिहा नहीं किया जा सका है। अधिवक्ता के माध्यम से गया न्यायालय में जमानत आवेदन दाखिल किया गया है।

Edited By: Prashant Kumar Pandey