संजय कुमार, गया

शहरवासियों को नियमित एवं शुद्ध जल मुहैया कराने के लिए एशियन डेवलपमेंट बैंक और बुडको ने 373 करोड़ रुपये की योजनाओं पर कार्य शुरु कर दिया है। दो चरण में कार्य किए जाएंगे। पहले चरण पर 311.30 करोड़ और दूसरे पर 62 करोड़ रुपये की राशि खर्च होगी। सब कुछ ठीकठाक चलता रहा तो वर्ष 2021 में लोगों को शुद्ध पानी पर्याप्त मात्रा में मिलने लगेगा।

शहर के पॉलिटेक्निक कॉलेज, सिंगरा स्थान पहाड़ी एवं मानपुर में जोरशोर से काम जारी है। कार्य सरल बनाने को लेकर शहर को 30 क्षेत्रों में बांटा गया है। नगर निगम के कार्यपालक अभियंता राकेश कुमार ने बताया कि एडीबी द्वारा नगर निगम क्षेत्र के प्रत्येक घरों में शुद्ध पानी मुहैया करने को लेकर सरकार द्वारा भरसक प्रयास किया जा रहा है। शहर में छह जल मीनार के साथ दो पानी टंकी का निर्माण जमीन पर किया जाएगा। इसके अलावा घर-घर तक पानी पहुंचाने के लिए शहर में 446 किलोमीटर पाइपलाइन का विस्तार किया जाएगा। ऐसा होने पर 24 घंटे पानी की आपूर्ति घरों में की जाएगी।

-------------

यहां बनेंगे जलापूर्ति केंद्र

योजना के तहत शहर में 24 स्थानों पर नया बो¨रग कर जलापूर्ति केंद्र का निर्माण किया जाएगा। इनमें मानपुर के जोड़ा मस्जिद के पास चार, अलीपुर में एक, भुसंडा मेला के पास दो, पॉलिटेक्निक कॉलेज के पास तीन, केन्दुई में तीन, खिरियावां में सात एवं बीथो में चार जलापूर्ति केंद्र बनेंगे।

-------------

आवश्कता से कम

पानी की सप्लाई

शहर की आबादी के अनुसार नगर निगम पानी मुहैया नहीं करा रहा है। निगम द्वारा प्रत्येक दिन 43 मिलियन लीटर पानी मुहैया कराया जा रहा है, जबकि शहर के करीब पांच लाख की आबादी को 64 मिलियन लीटर की आवश्कता है।

--------

तो देने होंगे पानी के बिल

योजना पूरी होने के बाद जब पर्याप्त मात्रा में पानी की सप्लाई की जाएगी तो लोगों को उसका बिल देना होगा। घरों में पानी के मीटर लगाए जाएंगे। उसके बाद खपत के अनुसार उपभोक्ताओं को राशि देनी होगी।

---------

शहरवासियों को 24 घंटे शुद्ध पानी मार्च 2021 के बाद मिलने लगेगा। इसके लिए योजनाओं पर जोरशोर से कार्य चल रहे हैं।

ईश्वर चंद्र शर्मा, नगर आयुक्त

Posted By: Jagran