गया, जागरण संवाददाता। गया के जिलाधिकारी अभिषेक सिंह ने सड़कों की मरम्मत को लेकर विभागीय अभियंताओं को अविलंब काम पूरा कराने का निर्देश दिया है। उन्होंने कहा कि सड़क मरम्मत अब लोक शिकायत निवारण अधिकार अधिनियम के दायरे में आ चुका है। अब आम लोगों की नजर खस्‍ताहाल सड़कों पर रहेगी। उन्‍होंने अभियंताओं को निर्धारित समय सीमा के अंदर गुणवत्ता के साथ मरम्मत कार्य को पूरा करने के लिए कहा है। गुणवत्ता व उसकी मरम्मत का अनुश्रवण के लिए सी-विजिल एप के तर्ज पर एक एप बनाने का निर्देश सूचना एवं प्रौद्योगिकी पदाधिकारी को दिया। ताकि आमजन /ग्रामीण सड़कों की स्थिति के संबंध में अपनी शिकायत फोटो/ वीडियो के साथ दर्ज करा सकें। उन्‍होंने कहा कि शिकायत करने पर सात दिनों के अंदर अभियंता को कार्रवाई सुनिश्चित करना होगा। जिलाधिकारी शनिवार को कलेक्ट्रेट में विभागीय योजनाओं की समीक्षा कर रहे थे।

योजनाओं की समीक्षा की, दिए कई निर्देश

उन्‍होंने आगे अतिक्रमण, भू-अर्जन के मामलों में सात दिनों के अंदर करवाएं मापी -योजनाओं के सफल क्रियान्वयन में भूमि विवाद, अतिक्रमण, भूमि की आवश्यकता, भू अर्जन आदि के मामले में सात दिनों के अंदर मापी करा कर निष्पादित करने का निर्देश सभी अंचलाधिकारी को दिया। अपर समाहर्ता व जिला भू अर्जन पदाधिकारी को निर्देश दिया कि वे अतिक्रमण तथा भू अर्जन से संबंधित मामले को शीघ्रता के साथ देखें। कार्यपालक अभियंता भवन प्रमंडल को निर्देश दिया गया कि करीमगंज में अल्पसंख्यक छात्रावास, महाबोधि मंदिर में सुरक्षा बैरक, गया कॉलेज के खेल परिसर में स्टेडियम निर्माण कार्य का निर्माण तेज गति के साथ कराएं। बैठक में अपर समाहर्ता, जिला भू अर्जन पदाधिकारी, सहायक समाहर्ता, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी, कार्यपालक अभियंता पथ निर्माण विभाग, कार्यपालक अभियंता जल संसाधन विभाग, वरीय उप समाहर्ता अमरेश कुमार, वरीय उप समाहर्ता अभिषेक कुमार, कार्यपालक अभियंता वुडको, कार्यपालक अभियंता पुल निर्माण निगम सहित सभी लाइन डिपार्टमेंट के कार्यपालक अभियंता/ सहायक अभियंता उपस्थित थे।