गया। ईस्ट सेंट्रल रेलवे कर्मचारी यूनियन शाखा की ओर से सहायक मंडल अभियंता कार्यालय के समक्ष गुरुवार को धरना-प्रदर्शन किया गया। रेलकर्मियों ने कहा कि रेल क्वार्टर के मरम्मत के नाम पर खानापूर्ति हुई है। सहायक मंडल अभियंता गया के अधीन कार्यरत वरीय प्रशाखा अभियंता कार्य के द्वारा रेलवे कालोनियों के रखरखाव में व्याप्त अनियमितताओं को कई वर्षों से कर्मचारियों के द्वारा बताया जा रहा था। ग्रुप डी स्टाफ को भेजकर जहां कहीं भी कार्य करवाया। उसका निरीक्षण करवाते रहें और बिल पास होता गया। कर्मचारियों का कार्य क्वार्टरों में न के बराबर हुआ। बरसात के मौसम में छतों से पानी टपकता है। खिड़कियां व दरवाजे जर्जर हो गए हैं। रेलवे कर्मचारियों के द्वारा हमेशा ईसीआरकेयू कार्यालय को प्राप्त होता रहा है। यूनियन के पत्र का भी कोई प्रभाव आईओडब्ल्यू पर ना पड़ता देखकर धरना-प्रदर्शन किया गया। अध्यक्षता ईसीआरकेयू के अध्यक्ष मधुर लाल मंडल व संचालन उपाध्यक्ष अजीत कुमार श्रीवास्तव ने किया। धरना-प्रदर्शन में ईसीआरकेयू के हाजीपुर के कार्यकारी अध्यक्ष मिथिलेश कुमार,मुकेश सिंह,संतोष कुमार, राजन कुमार सिन्हा, मनोज कुमार, सुधीर कुमार,राहुल कुमार,विजय, राजीव,विनोद,एके ओझा, आरके अवस्थी, राजीव,रमेश प्रसाद,सुजीत,जितेंद्र,डीके सिंह, आरके यादव ,महिला शाखा से मुन्नी,नित्या भारती,मंजू ,सविता,नीतू ,बसंती के अलावा लगभग दो सौ की संख्या में रेल कर्मचारी एवं उनके परिवार उपस्थित थे।

--

रेलवे कालोनी के रखरखाव व कर्मचारियों की सुविधाओं में होती है कटौती

-ईसीआरकेयू के हाजीपुर के कार्यकारी अध्यक्ष मिथिलेश कुमार ने कहा कि सहायक मंडल अभियंता कार्यालय के द्वारा हमेशा रेलवे कालोनियों की मरम्मत रखरखाव एवं कर्मचारियों की सुविधाओं में कटौती की जाती रही है। इससे परेशान होकर कर्मचारियों ने यूनियन का दरवाजा खटखटाया। यूनियन के प्रयास करने के बावजूद जब कार्य समुचित ढंग से नहीं हुआ, तो धरना- प्रदर्शन का आयोजन कर सहायक मंडल अभियंता को एक ज्ञापन सौंपा गया। जो मंडल रेल प्रबंधक डीडीयू के नाम से था। साथ ही एक कापी सहायक मंडल अभियंता को भी विभिन्न समस्याओं को संज्ञान में लेने के लिए दिया गया। सहायक मंडल अभियंता ने यूनियन पदाधिकारियों एवं रेलवे कर्मचारियों को आश्वासन दिया कि शीघ्र ही सभी समस्याओं का समाधान होगा और कार्य धरातल पर भी दिखेगा शिकायत का कोई मौका नहीं रहेगा।

Edited By: Jagran