जागरण संवाददाता, गया। बोधगया में यौन शोषण के शिकार छात्रा का बुधवार को गया कोर्ट में बयान कराया गया। कोर्ट में बयान कराने के उपरांत पीडि़ता को घर छोड़ दिया गया है। साथ हीं छात्रा ने बोधगया के जिस कोचिंग में पढ़ाने वाले शिक्षक को नामजद आरोपित किया गया था। उसकी गिरफ्तारी के लिए महिला थाना की पुलिस छापामारी शुरु की है। महिला थानाध्यक्ष रवि रंजना ने पीडि़ता के साथ घटनास्थल का मुआयना की, जहां पर छात्रा के साथ शिक्षक यौन शोषण करने के उपरांत वीडियो बनाने की बात आवेदन कही गई है। उस स्थल का भी मुआयना की। डनहोंने बताया कि आरोपित शिक्षक को गिरफ्तार करने के लिए छापामारी शुरु की गई है, लेकिन फिलहाल शिक्षक फरार है।

बोधगया बाजार के एक कोचिंग सेंटर के शिक्षक मोचारिम गांव के एक शिक्षक द्वारा वहां पढऩे वाली 10वीं कक्षा की एक छात्रा को पहले अपने प्यार के जाल में फंसाया था। पीडि़ता ने यौन शोषण का आरोप लगाई है। मंगलवार को युवती का मेडिकल जांच करा लिया गया है। अभी तक की जांच में प्रेम प्रसंग का मामला प्रतीत होता है। फिर भी मामला दर्ज कर छानबीन की जा रही है। जानकारी हो कि पीडि़ता के बयान पर मंगलवार को महिला थाना में शिक्षक के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई थी।

डायन का आरोप लगा महिला की पिटाई

संवाद सूत्र, मदनपुर (औरंगाबाद)। डायन का आरोप लगा मारपीट करने की मामले को लेकर मदनपुर के राजेंद्र प्रजापत द्वारा स्थानीय थाना में बुधवार को प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। जिसमें राजेश प्रजापत, उमेश प्रजापत, राजेश की मां एवं दोनों की पत्नी को अभियुक्त बनाया गया है। बताया गया कि घर पर बैठा था। इसी बीच उक्त सभी दरवाजे पर आकर गाली गलौज करते हुए ईंट पत्थर चलाने लगा। जिससे राजेंद्र प्रजापत के पत्नी, पुत्र-पुत्री घायल हो गए। घायल दिनेश प्रजापत, उनकी बहन रुबी कुमारी, ममता कुमारी, मां गुलाबी देवी का इलाज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मदनपुर में कराया गया है। जहां से प्राथमिक उपचार के बाद गंभीर रूप से घायल गुलाबी देवी एवं ममता कुमारी को चिकित्सकों ने बेहतर इलाज हेतु रेफर किया है। पुलिस ने कांड सं. 260/21 अंकित कर मामले की तहकीकात कर रही है। थानाध्यक्ष संजय कुमार ने बताया कि दोषियों के खिलाफ आवश्यक कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

Edited By: Prashant Kumar