[नीरज कुमार] गया । गया अफसर प्रशिक्षण अकादमी में 14वीं पासिंग आउट परेड और पिपिंग सेरेमनी का शानदार आयोजन हुआ। ओटीए में शनिवार को सूर्य की लालिमा के साथ जेंटलमैन कैडेटों ने कदम से कदम मिलाते हुए प्रवेश किया तो मौजूद सैन्य अधिकारी व उनके परिजनों ने करतल ध्वनि करते हुए नव सैन्य अधिकारियों की हौसला अफजाई की। परेड की कमान बिहार के बक्सर जिले के रहने वाले अंजनी कुमार मिश्रा संभाल रहे थे। इसी बीच, परेड स्थल पर मुख्य अतिथि का आगमन हुआ। उन्होंने सुसज्जित बग्घी पर सवार होकर अलग-अलग कंपनी का निरीक्षण किया। करीब एक घंटे चले कार्यक्रम में स्टेडियम सैन्य अधिकारी व जेंटलमैन कैडेटों के परिजनों से भरा हुआ था, जो इस स्वर्णिम और ऐतिहासिक क्षण का गवाह बने। कैडेटों के जौहार का बखान ध्वनि विस्तार यंत्र से किया गया। मुख्य अतिथि के संबोधन के साथ ही कार्यक्रम का समापन हुआ।

पिपिंग सेरेमनी में भावुक हुए परिजन : पासिंग आउट परेड समापन के बाद कठिन परिश्रम के बाद पिपिंग सेरेमनी का आयोजन हुआ। कैडेटों के परिजनों ने अपने-अपने बच्चों को सैन्य अधिकारी बनने का बैच लगाया। बैच लगाते वक्त कई परिजना भावुक हो गए। सैन्य अधिकारी बनने के बाद मां-पिता, दादा-दादी, भाई-बहन ने आशीर्वाद दिया। कई गले मिले तो कइयों की खुशी का ठिकाना नहीं रहा।

राष्ट्रध्वज के समक्ष ली शपथ : पिपिंग सेरेमनी के दौरान राष्ट्रध्वज तिरंगा के नव सैन्य अधिकारी खड़े हुए और सैल्यूट दिया। वहां पर मौजूद अतिथि भी राष्ट्रध्वज के सम्मान में खड़े हो गए। राष्ट्रध्वज को साक्षी मानकर सैन्य अधिकारियों ने देश की रक्षा करने की शपथ ली। उसके बाद सैन्य अधिकारियों ने देशभक्ति गीत गाए। 'कदम-कदम बढ़ाए जाए खुशी के गीत गाए जा..', सहित कई गीत गाए। इससे पहले धार्मिक वेदाताओं ने धार्मिक ग्रंथ और भारत की संविधान को साक्षी मानकर भी शपथ दिलाई। पिपिंग सेरेमनी का शुभारंभ राष्ट्रगान से हुआ। शपथ और कसम लेने के बाद नव सैन्य अधिकारी झूम उठे। उनके साथ-साथ परिवार के सदस्य भी झूम रहे थे।

Posted By: Jagran