नवादा, जागरण संवाददाता। राष्‍ट्रीय जनता दल (RJD) के नवादा जिला उपाध्‍यक्ष सह प्रवक्‍ता प्रिंस तमन्‍ना की एक महिला के साथ कुछ आपत्तिजनक तस्‍वीरें फेसबुक पर वायरल हो गईं हैं। इन तस्‍वीरों की सत्‍यता की पुष्टि हम नहीं करते हैं। हम केवल यह बता रहे हैं कि नवादा के जदयू मीडिया सेल (JDU Media Cell) के संयोजक संजय कुमार के फेसबुक पेज पर ये तस्‍वीरें पोस्‍ट की गईं हैं। फेसबुक पर पोस्‍ट किए जाने के बाद ये तस्‍वीरें वायरल हो गईं हैं। उधर, इस मामले में प्रिस तमन्‍ना ने कहा है कि ये तस्‍वीरें एडिट कर बनाईं गईं हैं, इनका सच्‍चाई से कोई वास्‍ता नहीं है।

जदयू मीडिया सेल ने फेसबुक पर जारी किया है पोस्‍ट

जदयू मीडिया सेल ने फेसबुक पर तस्वीरों को पोस्ट करते हुए हमला बोला है। यह पोस्‍ट तेजी से वायरल हो रहा है।

हालांकि यह तस्वीर कब की है इस बारे में पता नहीं चल सका है लेकिन यह तस्वीर पुरानी बताई जा रही है। जदयू मीडिया सेल के संजय कुमार ने राजद के जिला उपाध्यक्ष की फोटो पोस्ट करते हुए लिखा है कि एक विधायक के परम मित्र और राजद के जिला उपाध्यक्ष प्रिंस तमन्ना का कारनामा देखिए। प्रिंस तमन्ना को राष्ट्रीय जनता दल के सभी लोग योग्य नेता मानते हैं। लेकिन उनका यह रूप देखिए। नवादा जिले की जनता ऐसे घिनौने कार्य के लिए उन्‍हें कभी माफ नहीं करेगी।

(जदयू के मीडिया सेल संयोजक का फेसबुक पोस्‍ट।)

कुछ कर रहे विरोध तो कुछ बता रहे निजता का हनन

जदयू मीडिया सेल के संजय ने सवाल उठाते हुए कहा है कि क्या इसी उम्मीद के चलते जिले की जनता ने वोट दिया था। बहरहाल, फेसबुक पर यह पोस्ट लोगों के लिए चर्चा का विषय बन गया है। कुछ लोग जिला उपाध्यक्ष के पक्ष में खड़े दिख रहे हैं और कह रहे हैं कि किसी बाहरी लोग को किसने निजता को चुनौती देने का हक दिया। वहीं अधिकांश लोग ऐसी हरकत पर आपत्ति व्यक्त कर रहे हैं। बहरहाल, इस पोस्ट के बाद राजनैतिक गलियारे में भूचाल आ गया है। तरह-तरह की चर्चाओं का दौर शुरू हो गया है। इधर प्रिंस तमन्‍ना ने कहा है कि यह तस्‍वीर एडिट कर बनाई गई है। मेरी बढ़ती लोकप्रियता को देखते हुए विपक्षियों ने बदनाम करने के उद्देश्‍य से ऐसा किया है। इधर जदयू मीडिया सेल के संयोजक संजय यादव ने भी इस मामले में वीडियो जारी किया है।   इसमें उन्होंने तस्वीरों के संबंध में चर्चा की है।

यह भी पढ़ें- पांच वर्षों से विवाहिता संग करता रहा ऐसा, दोस्‍तों को भी साथ लाता था, औरंगाबाद पुलिस ने भेजा जेल

Edited By: Vyas Chandra