संवाद सहयोगी, टिकारी : अनुमंडल मुख्यालय शहर टिकारी में अच्छी शिक्षा के नाम पर संचालित निजी शिक्षण संस्थान के संचालकों द्वारा बरती जा रही कथित लापरवाही और मनमानी के विरुद्ध छात्र संघ के अध्यक्ष रितिक कुमार ने पदाधिकारियों से शिकायत की है। उन्होंने पदाधिकारियों को सौंपे ज्ञापन में कहा है कि शहर में संचालित निजी कोचिंग संस्थान छात्रों के मानसिक और अभिवावकों का आर्थिक भयादोहन का जरिया बना है। एक भी कोचिंग मानक का पालन नहीं कर रहे हैं। उनका दावा है कि प्रखंड शिक्षा कार्यालय से सूचना के अधिकार के तहत मिली जानकारी के अनुसार यहां एक भी कोचिंग संस्थान पंजीकृत नहीं है। हद तो तब हो गई जब सरकारी व निजी विद्यालय एवं महाविद्यालय के समय सारिणी के बीच कोचिंग संचालित हो रहे हैं। ऐसे संस्थानों में क्षमता से अधिक छात्रों को बैठाया जाना, कथित अयोग्य शिक्षकों द्वारा शिक्षण कार्य लेने की बात कही है। शहर के कुछ निजी विद्यालय प्रबंधन द्वारा अपने छात्रों से विद्यालय के प्रचार के लिए पोस्टर चिपकाने की भी शिकायत की है। ऐसे संस्थानों को चिह्नि्त करते हुए संचालकों के विरुद्ध कठोर कार्रवाई करने की मांग की है। प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी का कहना है कि ऐसी कोई शिकायत उन्हें नहीं मिली है। आएगी तो जाच और कार्रवाई दोनों की जाएगी।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप