संवाद सूत्र, रामगढ़: प्रखंड में हुए त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में मुखिया के बाद सरपंच पद पर भी काफी उलटफेर हुआ। यहां दो पंचायत बड़ौरा व सिसौड़ा को छोड़ कर सभी पंचायतों के पूर्व सरपंच अपनी कुर्सी गंवा दिए। बड़ौरा पंचायत से इस ग्राम कचहरी के चुनाव में गुरूचरण राम ने इंदू राम को भारी मतों के अंतर से पराजित किया तो वहीं सिसौड़ा पंचायत से महेंद्र गिरी ने पुनः कब्जा जमा लिया। 

इसके अलावा अन्य दस पंचायतों में दोबारा किसी सरपंच की वापसी नहीं हो सकी। ग्राम कचहरी को भी सरकार द्वारा अधिकार में बढ़ोतरी होने से इस पद की महता भी काफी बढ़ गई है। निकाय कोटे से होने वाले एमएलसी चुनाव में भी इनके द्वारा मतदान करने की सुगबुगाहट हो रही है। ऐसे में सरपंच सदस्यों की भूमिका भी भी बढ़ने वाली है। कई पंचायतों में तो एक ही गांव में सभी पद चला गया है। नरहन जमुरना व बड़ौरा पंचायत के दोनों गांव नरहन व बड़ौरा में सभी पद चला गया है। 

रामगढ़ प्रखंड के सरपंच पद का परिणाम

महुअर-काशी कुम्हार-1431- 

राम प्यारे साह-972

मसाढ़ी-हरिशंकर सिंह-1007- संजय कुमार मिश्रा-816

देवहलिया-पिंकी देवी-1063- नंदनी देवी-915

नरहन-जमुरना-अवध बिहारी खरवार-947- मनीष कुमार सिंह-638

 सहुका-शम्भू पासी-1586- राजेंद्र राम-769 नोनार-सोनी सुगंधा-1846- माया देवी-1293 बड़ौरा-गुरुचरन राम-2718- इंदू राम-1755अकोढ़ी-रेनू सिंह-668- चमचम देवी-602 सदुल्लहपुर-डरवन-दीनदयाल उपाध्याय-1258- संतोष कुमार सिंह-1036 सिसौड़ा-महेंद्र गिरि-1312- लल्लन सिंह-1135अहिवास-संगीता देवी-1057- फूलमती देवी-998 सिझुआ-मालती देवी-1131- धर्मशीला देवी-965

Edited By: Prashant Kumar Pandey