संसू, काशीचक(नवादा)। थानाक्षेत्र के भट्टा गांव में ननिहाल आये एक तीन वर्षीय बालक का फिरौती के लिए अपहरण करने के बाद उसकी हत्या कर दी गई। घटना गुरुवार को हुई। शेखपुरा जिले के अरियरी थानाक्षेत्र के तेलडीहा गांव निवासी राकेश कुमार और पूनम देवी के तीन वर्षीय पुत्र आलोक कुमार की हत्या हुई। वह चार दिन पहले अपने नाना जयचंद महतो के घर आया हुआ था। पुलिस ने देर रात गांव के ब्रह्मदेव चौधरी के घर के पीछे से शव को बरामद किया। इस मामले में पुलिस ने गांव की एक महिला को हिरासत में लिया है।

महिला से पूछताछ की जा रही है। पुलिस के अनुसार प्रथमद्रष्टया दम घुटने से बालक की मौत हुई है। पाेस्टमार्टम रिपोर्ट में स्थिति साफ होगी। बालक के मामा रंजीत कुमार ने बताया कि भांजा आलोक गुरुवार की दोपहर करीब एक बजे पांच रुपये लेकर घर से निकला था। वह गांव के ही एक दुकान में पहुंचा। जहां से कुछ खरीदते हुए भी देखा गया। उसके बाद से वो गायब हो गया। दोपहर के करीब पौने तीन बजे बाबूजी के मोबाइल पर 9771068226 नंबर से फोन आया कि मैं वारिसलीगंज से बोल रहा हूं। मैंने आलोक का अपहरण कर लिया है। पांच लाख रुपये देकर बच्चे को ले जाओ। मोबाइल काल के बाद घबराए स्वजनों ने तत्काल काशीचक थाना को फोन कर घटना की जानकारी दी।

सूचना पर त्वरित संज्ञान लेते हुए थानाध्यक्ष राजकुमार पुलिसबल के साथ गांव पहुंचे और जांच-पड़ताल शुरू की। एसपी डीएस सांवलाराम, एसडीपीओ पकरीबरावां मुकेश कुमार साहा, पुलिस निरीक्षक जितेंद्र कुमार, वारिसलीगंज थानाध्यक्ष पवन कुमार, शाहपुर ओपीअध्यक्ष दिनेश कुमार, पकरीबरवां थानाध्यक्ष नागमणि भास्कर, धमौल ओपीअध्यक्ष नीरज कुमार दल-बल के साथ पहुंचे। आसपास के घरों की सघन तलाशी ली गई। रात 9 बजे तक किसी प्रकार सफलता नहीं मिलने पर से निराश वरीय अधिकारी लौट गए। जबकि काशीचक पुलिस बच्चे की बरामदगी के लिये गांव में जमी रही। रात के डेढ़ बजे ब्रह्मदेव चौधरी के घर के पास आग ताप रहे लोगों ने उनके ही टूटे फूटे घर से चार कदम दूर बच्चे का शव पड़ा देखा। पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया। पुलिस इस मामले में ग्रामीण दिलीप चौधरी की पत्नी रूबी देवी को पुलिस हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। फिलहाल, पुलिस किसी निष्कर्ष पर नहीं पहुंची है।

काशीक थानेदार का राजकुमार का कहना है कि बालक का अपहरण कर फिरौती की मांग की गई थी, कुछ घंटे में ही हत्या कैसे व क्यों कर दी गई इन बिंदुओं पर जांच जारी है, प्रथमद्रष्टया दम घुटने से बालक की मौत होना 

Edited By: Rahul Kumar