औरंगाबदा, जागरण संवाददाता। औरंगाबाद में मेडिकल की छात्रा की खुदकुशी का मामला उलझता जा रहा है। छात्रा की खुदकुशी की पीछे प्रेम प्रसंग की बात सामने आ रही है। नगर थाना क्षेत्र के टिकरी मोड़ निवासी दिवंगत नसीम अंसारी की पुत्री शाहिना बानो की आत्महत्या की गुत्थी उलझती जा रही है। शाहिना ने पंखे से लटक अपनी जान दे दी थी। मामले में उसकी मां शबाना खातून के बयान पर पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज की है। शबाना ने अपने बयान में कहा है कि उनकी बेटी सुबह उठकर छत पर टहल रही थी। वह उदास थी। मैंने उदासी का कारण पूछा तो बोली- आप जाइए अपना काम करिए, हमें आराम करने दीजिए। इसके बाद मैं घर साफ कर रही थी तभी वह एक कमरे में अपने को अंदर से बंद कर लिया और पंखे से लटक अपनी जान दे दी।

सुसाइड से पहले किससे हुई थी बात?

आत्महत्या करने से पहले वह किसी से फोन पर बात कर रही थी। वह आक्रोशित थी। मां के अनुसार शाहिना हमेशा फोन से बात करते रहती थी। मेरी बेटी रांची रहकर पढ़ रही थी जिस कारण हमलोग फोन से किससे बात कर रही है शक नहीं करते थे। मां की माने तो फोन पर हुई बात के बाद ही शाहिना ने पंखे से लटक अपनी जान दी है। उसकी मौत के बाद से मोबाइल गायब है।

पुलिस के हाथ नहीं लगा छात्रा का फोन

पुलिस को स्वजनों ने मोबाइल नंबर दिया है। नगर थानाध्यक्ष अंजनी कुमार ने बताया कि शहिना का मोबाइल गायब हो जाने से परेशानी बढ़ गई है। पुलिस मामले में सीडीआर निकालकर जांच कर रही है। आत्महत्या से पहले उसने किससे बात की इसका पता लगाया जा रहा है। आत्महत्या के कारणों का राजफाश शीघ्र हो जाएगा।

छात्रा की डायरी लगी पुलिस के हाथ

मेडिकल की छात्रा की खुदकुशी मामले में सूत्रों का कहना है कि शाहिन की एक डायरी पुलिस के हाथ लगी है जिसमें प्रेम प्रसंग से संबंधित बातें लिखी हुई है। पुलिस उस डायरी के आधार पर तहकीकात कर रही है। 

Edited By: Rahul Kumar