गया । राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकार के दिशा निर्देश में जिलाविधिक सेवा प्राधिकार के तत्वावधान में राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन शनिवार को व्यवहार न्यायालय परिसर में आयोजित किया गया। जिसका उद्घाटन प्रभारी जिला जज कृष्ण बिहारी पाण्डेय ने दीप प्रज्ज्वलित कर किया। समारोह को संबोधित करते हुए प्रभारी जिला जज ने कहा कि लोक अदालत का आयोजन से बहुत फायदा होता है। समझौता के आधार पर वाद समाप्त किया जाता है। पक्षकारों को लोक अदालत में वाद समाप्त कराकर समय एवं पैसा का बचत कर सकते हैं। लोक अदालत में कुल 1412 वाद का निष्पादन किया गया। जिसमें बैंक का ऋण वाद 1290 है। बैंक का समझौता राशि 4 करोड़ 2 लाख 62 हजार 212 रुपये है। 28 मोटर दुर्घटना वाद का निष्पादन किया गया। जिसका समझौता राशि एक करोड़ 64 लाख 55 हजार तय किया गया। परिवार न्यायालय से आपसी समझौता के आधार पर दो वैवाहिक विवाद तलाक का निष्पादन किया गया।

लोक अदालत का संचालन प्राधिकार के सचिव अमित रंजन उपाध्याय ने किया। राष्ट्रीय लोक अदालत में अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश प्रीति वर्मा, अशोक कुमार पाण्डेय, सबजज संजय कुमार,संजीव कुमार, दिपांशु श्रीवास्तव, विवेक भारद्वाज आदि मौजूद थे।

Posted By: Jagran