संवाद सहयोगी, नवादा : पिछले साल जहरीली शराब से 15 लोगों की मौत मामले में मंगलवार को एक स्प्रिट सप्लायर को गिरफ्तार किया गया है। आरोपित त्रिलोकी प्रसाद उर्फ त्रिलोकिया झारखंड के हजारीबाग जिले के बरकट्ठा थाना क्षेत्र के झुरझुरी बिगहा गांव का रहने वाला है। उसे बरही से गिरफ्तार किया गया। उसके पास से एक एक्सयूवी गाड़ी, एक बैंक पासबुक, एक एटीएम कार्ड, एक आधार कार्ड और एक मोबाइल बरामद किया गया है। यह जानकारी सदर एसडीपीओ उपेंद्र प्रसाद ने बुधवार को नगर थाना में आयोजित प्रेस वार्ता में दी। उन्होंने बताया कि पूर्व में गिरफ्तार शराब माफिया ने सप्लायर के बारे में जानकारी दी थी। इसके विरुद्ध हजारीबाग के बरकट्ठा थाना में सात और गिरिडीह में एक प्राथमिकी दर्ज है। नवादा में जहरीली शराब प्रकरण में दर्ज 19 प्राथमिकी में भी अप्राथमिकी अभियुक्त है।

भांजा के साथ मिलकर करता है धंधा

एसडीपीओ ने बताया कि गिरफ्तार त्रिलोकिया अपने भांजा रंजीत कुमार के साथ मिलकर स्प्रिट का धंधा करता है। फिलहाल रंजीत औरंगाबाद में जेल में बद हैं। उन्होंने बताया कि मामा-भांजा नवादा समेत कई जिलों को लंबे समय से स्प्रिट कर रहा था। बरामद मोबाइल से काल डिटेल निकाला जा रहा है, ताकि धंधे में शामिल अन्य आरोपितों की धर-पकड़ की जा सके। उन्होंने बताया कि जिन-जिन जिलों में शराब से मौतें हुई हैं, वहां की पुलिस से भी संपर्क किया जा रहा है। अगर अन्य जिलों में इसकी संलिप्तता पाई गई तो वहां से भी रिमांड पर लिया जाएगा।

पूर्व में पकड़े गए शराब माफिया ने दी थी जानकारी

एसडीपीओ ने बताया कि जिले में जहरीली शराब से हुई मौत के बाद कई शराब माफिया को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया। इस प्रकरण में गिरफ्तार मुख्य रूप से अरविंद यादव, लक्ष्मण यादव, विधान यादव, कौशल यादव, कार्तिक चौधरी, शैलेंद्र यादव, सूरज उर्फ करकू ने त्रिलोकिया और उसके भांजा के बारे में जानकारी दी थी। उन आरोपितों ने अपने स्वीकारोक्ति बयान में पुलिस को बताया था कि दोनों मिलकर उन्हें स्प्रिट सप्लाई करते थे। ये दोनों मुख्य आपूर्तिकर्ता हैं। उसी समय से इनकी तलाश थी। एसपी डीएस सावलाराम के निर्देश पर गठित विशेष टीम ने त्रिलोकियो को बरही से धर दबोचा। विशेष टीम में रजौली थानाध्यक्ष दरबारी चौधरी, सिरदला थानाध्यक्ष आशीष मिश्रा, पुअनि इफ्तेखार आलम, डीआइयू के एसआइ सरोज कुमार व सिपाही मंतोष कुमार शामिल थे।

जहरीली शराब पीने से 15 की हुई थी मौत

- पिछले साल होली पर्व के दौरान जहरीली शराब पीने से 15 लोगों की मौतें हुई थीं। नगर थाना क्षेत्र के गोंदापुर, खरीदी बिगहा, बुधौल, सिसवां, नारदीगंज रोड गढ़पर इलाके में मौतें हुई थी। इसके आलोक में नगर थाना में कुल 19 प्राथमिकी दर्ज की गई। जिसमें शराब माफिया, बिक्री करने वाले लोगों की गिरफ्तारी हुई थी। कई शराब भट्ठियों को ध्वस्त किया गया था। मिनी शराब फैक्ट्री का भंडाफोड़ किया गया था।

हजारीबाग व गिरीडीह जिले में दर्ज है आठ प्राथमिकी

पुलिस गिरफ्त में आए त्रिलोकिया के खिलाफ हजारीबाग जिले के बरकट्ठा व गिरीडीह जिले के डुमरी थाना में कुल आठ प्राथमिकी दर्ज है। हत्या का प्रयास, मद्य निषेध, जालसाजी समेत अन्य संगीन मामलों में प्राथमिकी दर्ज है। एसडीपीओ ने बताया कि अन्य जिलों से भी संपर्क किया जा रहा है, जिससे अन्य आपराधिक इतिहास की जानकारी मिल सके।

Edited By: Prashant Kumar Pandey