औरंगाबाद, जागरण संवाददाता। जिले में प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का लाभ ले रहे 1064 किसानों को इस योजना से वंचित कर दिया गया है। सभी किसान आयकर दाता हैं और इस योजना का लाभ ले रहे थे। किसानों के आधार कार्ड से योजना का लाभ ले रहे किसानों के गलत तरीके से इस योजना लाभ लेने का मामला पकड़ा गया।

योजना की राशि किसानों के बैंक खाते में भेजी जाती है। जब किसानों के बैंक खाता का विभागीय अधिकारियों के द्वारा अवलोकन किया गया तो पता चला कि किसान आयकरदाता हैं और योजना का लाभ ले रहे हैं। योजना के लाभ से वंचित किए गए 1064 किसानों में 98 किसानों ने अपने खाता में योजना के तहत ली गई राशि को भारत कोष एवं कृषि निदेशक के सरकारी बैंक खाता में लौटा दी गई है। शेष किसानों को राशि लौटाने को लेकर नोटिस निर्गत की गई है। जिला कृषि पदाधिकारी के कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार नबीनगर के नाउर गांव निवासी नर्मदेश्वर पांडेय ने 12 हजार, बढ़की पाढ़ी गांव निवासी प्रदीप कुमार 10 हजार, बरुणा गांव निवासी शशिभूषण 10 हजार, देव के सड़कर गांव निवासी सत्येंद्र तिवारी दस हजार, तिलौताबिगहा गांव निवासी रघुनंदन यादव 12 हजार, सदर प्रखंड के मंजुराही गांव निवासी सत्यदेव सज्जन कुमार 10 हजार समेत 98 किसानों ने 8 लाख 8 हजार रुपये भारत कोष एवं कृषि निदेशक के खाते में लौटा दिया है। राशि लौटाने वाले सभी किसानों ने  जिला कृषि कार्यालय में इस योजना के लाभ की पात्रता समाप्त करने को लेकर आवेदन दिया है। आवेदन पर सभी की पात्रता समाप्त कर दिया गया है। किसानों ने आवेदन में लिखा है कि यह उन्हें मालूम नहीं था कि आयकरदाता किसान इस योजना का लाभ नहीं ले सकते हैं।

80,412 किसानों का आवेदन किया गया अस्वीकृत

जिले में अबतक 2,690,46 किसानों ने प्रधानमंत्री किसान निधि योजना का लाभ लेने के लिए आवेदन दिया है। आवेदनों की जांच में 80412 किसानों के आवेदन को अस्वीकृत कर दिया गया है। शेष किसानों के आवेदन को स्वीकृत करते हुए अग्रेतर कार्रवाई की जा रही है।

कहते हैं जिला कृषि पदाधिकारी

जिला कृषि पदाधिकारी ने बताया कि इस योजना के तहत पात्रता रखने वाले किसानों के बैंक खाते में तीन किश्तों में 6000 रुपये आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है। जो किसान आयकरदाता हैं वे इस योजना का लाभ नहीं ले सकते हैं। बताया कि जिले में इस योजना का लाभ लेने वाले अबतक जांच में 1064 किसान आयकरदाता पाए गए हैं जिनका इस योजना के पात्रता से वंचित कर दिया गया है। 98 किसानों ने राशि लौटा दी है। शेष किसानों को राशि लौटाने के लिए नोटिस भेजा गया है।

कौन से प्रखंड में कितना किसान योजना का लाभ से हुए वंचित

प्रखंड का नाम - योजना से वंचित किसान

औरंगाबाद सदर   -                                 171

बारुण    -                                               89

दाउदनगर -                                            55

देव   -                                                    79

गोह  -                                                     58

हसपुरा-                                                   48

कुटुंबा                                                      92

मदनपुर                                                  105

नबीनगर                                                  206  

ओबरा -                                                   79

रफीगंज -                                                  82

 

Edited By: Sumita Jaiswal