संवाद सहयोगी, बिक्रमगंज (सासाराम)। अब पढ़ना, लिखना और होगा आसान। बिक्रमगंज के अंजबित सिंह कॉलेज में खुलेगी इग्नू की शाखा। आर्थिक तंगी झेल रहे लोगों के लिए व जिसके पास नियमित वर्ग करने के लिए समय का अभाव है। वह अपने घर बैठे कई डिग्री हासिल कर सकेंगे और अपने सपनों का उड़ान भर सकेंगे। यह अवसर देगा इग्नू।

समयाभाव या आर्थिक तंगी के कारण नियमित पढ़ाई से वंचित होने वाले छात्र-छात्राओं के लिए अंजवित सिंह कॉलेज के माध्यम से अब एक नई आशा की रौशनी मिलने की आस जगी है। जिसका मुआयना करने इग्नू के क्षेत्रीय सहायक निदेशक पटना डॉ आसिफ इकबाल शुक्रवार को महाविद्यालय पहुंचे। यहां उनका स्वागत महाविद्यालय के प्रचार्य डॉ एस एस भास्करन और कॉलेज कर्मियों ने किया। इस अवसर पर महाविद्यालय के छात्र- छात्राओं के बीच एक सेमिनार का आयोजन हुआ। इस अवसर पर सहायक निदेशक डॉ आसिफ इकबाल ने कहा कि यहां बहुत जल्द इग्नू की शाखा खोली जायेगी। उन्होंने कहा कि जन जन का विश्वविद्यालय का नाम है इग्नू। जहां चाह वहां राह की तर्ज पर किन्ही कारणों से शिक्षा से दूर हुए जरूरतमंदों के लिए यह काफी उपयोगी है।

अध्ययनरत छात्र छात्राएं, नौकरी पेशा लोग व्यवसाय से या किसी भी कार्य से जुड़े लोग हों सभी के लिए शिक्षा की जरूरत को पूरा इग्नू करता है। इग्नू की स्थापना 1985 में हुई लेकिन इतने कम समय मे ही इग्नू ने देश ही नही विदेशों में भी अपने योग्यता का परचम लहरा दिया है। कोरोना काल मे भी अपने शैक्षणिक कैलेंडर की विश्वसनीयता बनाये रखा। जहां 6 माह से लेकर चार पांच वर्षों तक के कोर्स भी उपलब्ध हैं। कार्यक्रम की अध्यक्षता वनस्पति विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ कन्हैया ने किया। सेमिनार में महाविद्यालय के विभिन्न विभागों के विभागाध्यक्ष के अलावे शिक्षक एवं शिक्षकेत्तर कर्मचारी और छात्र छात्राओं ने भाग लिया।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021