गया। केंद्र सरकार की आयुष्मान भारत योजना के तहत जिले में अभी तक 46 हजार से अधिक लोगों के गोल्डन कार्ड बनाए गए हैं। इसकी कुल संख्या 46176 है। ये कार्डधारक अब जिले के कुल 43 सरकारी एवं निजी अस्पतालों में मुफ्त इलाज प्राप्त कर सकेंगे। जिला परिषद सभागार में शुक्रवार को सिविल सर्जन की अध्यक्षता में आयोजित एक दिवसीय कार्यशाला में उक्त जानकारी दी गई।

सिविल सर्जन डॉ. राजेंद्र प्रसाद सिन्हा ने बताया कि आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों को पांच लाख तक का निशुल्क इलाज प्रदान करने के लिए आयुष्मान भारत योजना यानी प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना केंद्र सरकार द्वारा चलाई जा रही है। इस कार्यक्रम के तहत चिहिनत शत-प्रतिशत परिवारों को इसका लाभ पहुंचाना होगा। गोल्डेन कार्ड प्रदान करने की गति में तेजी लाने की भी जरूरत होगी। उन्होंने इसके लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिया।

--------------

जिला कार्यक्रम पदाधिकारी नीलेश कुमार ने बताया कि जिले में इनमें 27 सरकारी और 16 निजी अस्पताल हैं। योजना के तहत अधिक से अधिक चिह्नित परिवारों को लाभ दिलाने की कोशिश की जा रही है। हालांकि जिले में तीन लाख 72 हजार से अधिक परिवार आयुष्मान भारत के लिए चिह्नित हैं। इस योजना के तहत अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल कॉलेज सह अस्पताल में 732 मरीजों का नामांकन दर्ज हुआ है, जो जिले में सबसे अधिक है। ग्रामीण क्षेत्रों में सबसे ज्यादा नामाकंन टनकुप्पा में हुआ, जबकि दूसरे स्थान खिजरसराय है। उन्होंने बताया कि जिले के हर सरकारी संस्थान में निश्शुल्क आयुष्मान भारत कार्ड बनाया जाता है। जिले के एससीसी सेंटर को कार्ड बनाने मे तेजी लाने के निर्देश दिए गए हैं।

-------------

क्या है योजना

वर्ष 2011 की सामाजिक-आर्थिक एवं जातिगत जनगणना में चिह्नित गरीब परिवारों को इस योजना का पात्र बनाया गया है। प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत लाभार्थी परिवार पैनल में शामिल सरकारी या निजी अस्पतालों में प्रति वर्ष पांच लाख रुपये तक का कैशलेस इलाज करा सकते हैं। योजना का लाभ उठाने के लिए उम्र की बाध्यता एवं परिवार के आकार को लेकर कोई बंदिश नहीं है। योजना को संचालित करने वाली नेशनल हेल्थ एजेंसी ने एक वेबसाइट और हेल्पलाइन नंबर जारी किया है। इसके जरिए लाभार्थी यह जान सकते हैं कि उनका नाम लिस्ट में शामिल है या नहीं। लिस्ट में नाम की जाच करने के लिए वेबसाइट देख सकते हैं या हेल्पलाइन नंबर 14555 पर कॉल कर जानकारी ली जा सकती है।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस