संवाद सहयोगी, टिकारी (गया)। टिकारी-कुर्था मुख्य मार्ग में चितौखर टोला नौघड़ा पर गांव की एक वृद्ध महिला की मौत ऑटो की टक्कर से हो गई। उक्त घटना शुक्रवार की देर शाम की है। ग्रामीणों से मिली जानकारी के अनुसार, स्थानीय निवासी महेंद्र यादव की 70 वर्षीय मां जीरा देवी शौच के लिए सड़क की ओर जा रही थी। इसी क्रम में तेज रफ्तार में उक्त मार्ग से गुजर रही एक ऑटो ने जोरदार टक्कर मार दी। इसमें महिला सड़क पर फेंका गई और गंभीर रूप से चोट लगने के कारण मौके पर ही मौत हो गई।

घटना की सूचना के बाद रात्रि में ही मउ ओपी की पुलिस घटनास्थल पहुंचकर शव को पोस्टमार्टम के लिए मेडिकल भेजने का आग्रह किया। लेकिन, मुआवजा की मांग पर अड़े रहे और शव देने से इनकार कर दिया। पुलिस मृतक के स्वजनों और ग्रामीणों को समझाने बुझाने का प्रयास रात्रि में विफल हो गया। शनिवार की सुबह शव को घटनास्थल पर रखकर मार्ग को जाम कर दिया और आपदा राहत के तहत मुआवजा की मांग कर रहे हैं। बीडीओ ने तत्काल पारिवारिक लाभ योजना के तहत 20 हजार रुपया देने की घोषणा की है। लेकिन, मृतिका के स्वजन और ग्रामीण मानने को तैयार नहीं है।

ग्रामीणों का आरोप है कि ऑटो चालकों पर पुलिस का नियंत्रण नहीं है। वे बेतरतीब ढंग से ऑटो चलाते हैं और आए दिन हादसे का शिकार बनते हैं। यह तरकीब वे पुलिस के सामने दिखाते हैं, लेकिन पुलिसकर्मी कुछ भी नहीं करते, क्‍योंकि उन्‍हें नजराना मिलता है। कोई व्‍यवस्थित ऑटो स्‍टैंड नहीं है। जहां-तहां ऑटाे खड़ी कर सवारी उठाते और उतारते हैं। लोगों का यह भी कहना है कि ज्‍यादातर ऑटो चालक नाबालिग हैं। उनके पास वैध वाहन लाइसेंस भी नहीं होता, फिर भी सड़कों पर फर्राटा भरते हैं। ऐसी स्थिति में पैदल चलना मुश्किल है। लोग अक्‍सर दुर्घटनाओं का शिकार बनते हैं।

Edited By: Prashant Kumar