जागरण संवाददाता, गया : लोक आस्था का महापर्व नहाय-खाय के साथ से शुक्रवार से शुरू हो जाएगा। लेकिन नगर निगम की उदासीनता के कारण शहर में कई तालाबों के साफ-सफाई का काम गुरुवार तक नहीं किया गया है। तालाबों की सफाई नहीं होने से छठ व्रतियों को पानी में उतरने में काफी परेशानी होगी। सफाई नहीं होने से घाटों पर कचरा पसरा हुआ है। शहर में स्थित सूर्यकुंड, रुक्मिणी एवं सिंगरा स्थान तालाब की सफाई के नाम पर नगर निगम ने खानापूर्ति किया है। 

तालाब में बने सीढ़ियों के सफाई नहीं होने से व्रतियों को अर्घ्य देने में पैर फिसल सकता है। जिससे बडा हादसा हो सकता है। ऐसे नगर निगम का दावा है कि शहर में स्थित सभी घाटों के सफाई दो पाली किया जा रहा है। जेसीबी के साथ सफाई कर्मियों को लगाकर घाटों की साफ-सफाई की जा रही है। तालाबों के पानी के साफ करने के लिए चूना और फिटकरी डाला जा रहा है। 

सीढ़ियों पर जमा हुआ काई 

शहर के प्रमुख छठ घाट पर एक सूर्यकुंड सरोवर भी है। जहां काफी संख्या में छठ व्रती भगवान भास्कर के अर्घ्य देते है। उक्त सरोवर में नहाय-खाय से ही व्रतियों की भीड़ रहती है। लेकिन सरोवर के सीढ़ियों की सफाई नहीं होने से पानी में उतरने में व्रतियों की परेशानी होगी। सीढ़ियों पर काई जमा होने के कारण पैर फिसल सकता है। जिससे बड़ा हादसा होने से इंकार नहीं किया जा सकता है। वार्ड पार्षद चंदू देवी ने कहा कि सरोवर की सफाई में सिर्फ खानापूर्ति किया गया है। जिससे अर्घ्य देने में छठ व्रतियों के परेशानी होगी।

तालाब किनारे पसरी है गंदगी

शहर के दक्षिणी क्षेत्र स्थित रुक्मिणी तालाब में गंदगी पसरा हुआ है। प्रतिमा के विसर्जन होने से तालाब के पानी में प्रतिमा का अविशिष्ट तैर रहा है। वहीं किनारे में गंदगी पसरा हुआ है। ऐसे में छठ व्रतियों के अर्घ्य देने में काफी परेशानी होगी। जबकि प्रतिमा के अविशिष्ट को हटाने में नगर निगम के सफाईकर्मी लगे हुए है। देखना है कि तालाब के सफाई कब तक हो जाएगा। 

चकाचक दिख रहा सिंगरा स्थान तालाब

ब्रहृायोनी पहाड़ी के तलहटी में स्थित सिंगरा स्थान तालाब की छठ पर्व को लेकर साफ-सफाई पूरी तरह से की जा रही है। जिससे तालाब पूरी तरह से चकाचक दिखाई पड़ रहा है। वार्ड पार्षद ओमप्रकाश सिंह ने कहा कि तालाब में 40 हजार से अधिक व्रती अर्घ्य का क्षमता है। तालाब के पानी साफ करने के लिए चूना और फिटकिरी डाला गया है। यही हाल गोविंदपुर तालाब का है। साफ-सफाई के कारण तालाब चकाचक दिखाई दे रहा है।

Edited By: Prashant Kumar Pandey

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट