जागरण संवाददाता, गया: असत्य पर सत्य की विजय को लेकर प्रत्येक वर्ष गया मुख्यालय समेत अलग-अलग अनुमंडल व प्रखंड मुख्यालय में रावण वध का कार्यक्रम होता है। जिला मुख्यालय में सुरक्षा व्यवस्था की कमान डीएम डा त्यागराजन एस एम व एसएसपी हरप्रीत कौर ने संभाल रखी है। इसी तरह अनुमंडल मुख्यालय में अनुमंडल पदाधिकारी, डीएसपी एवं प्रखंड मुख्यालय जहां रावण वध का कार्यक्रम निहित है, वहां थाना प्रभारी व बीडीओ संभाल रहे। 

मुख्य कार्यक्रम गांधी मैदान में आयोजित 

जिला मुख्यालय में मुख्य कार्यक्रम गांधी मैदान में आयोजित है। गांधी मैदान में प्रवेश और निकास के लिए कुल 9 द्वार बनाए गए हैं, जहां से भीड़ को प्रवेश और रावण वध कार्यक्रम के बाद उन्हें वापस निकाला जाएगा। ऐसी व्यवस्था की गई है , साथ ही जिला प्रशासन ने गांधी मैदान के चारों तरफ एवं आसपास के प्रमुख मार्गों पर ध्वनि विस्तार लगाए हैं जहां से भीड़ को काबू करने के लिए बराबर आदेश निर्देशित होगा। बुधवार को रावण वध का कार्यक्रम है। इस कारण से गांधी मैदान में जहां रावण, कुंभकरण और मेघनाथ का पुतला बनाया गया है। उस स्थल के आसपास 40 फीट का डी एरिया बनाया गया है। उसडी एरिया में किसी भी व्यक्ति को जाने की इजाजत नहीं है सिर्फ कुछ चुनिंदा कलाकार ही डीरिया में जाएंगे।

गांधी मैदान के आसपास थ्री लेयर में सुरक्षा व्यवस्था

गांधी मैदान के आसपास थ्री लेयर में सुरक्षा व्यवस्था रखी गई है। कार्यक्रम स्थल पर वाहनों का प्रवेश पूरी तरह वर्जित है साथ ही यातायात व्यवस्था सामान रखने के लिए गांधी मैदान आने वाले सभी मार्गो पर वाहनों का परिचालन वर्जित किया गया है। इन सभी मार्गों पर सुरक्षाबलों की तैनाती रखी गई है। आपात स्थिति से निपटने के लिए एंबुलेंस चिकित्सक, पारा मेडिकल, कर्मियों को भी तैनात किया गया है साथ ही अलग-अलग स्थानों पर अग्निशमन के छोटे व बड़े वाहनों को लगाया गया है। जिलाधिकारी ने प्रतिनियुक्त सभी दंडाधिकारी और पुलिस पदाधिकारी के साथ-साथ जवानों को निर्देशित किया है कि पूरी संयम के साथ अपने कर्तव्य का निर्वहन करेंगे। रावण वध देखने आने वाले किसी भी व्यक्ति को ठेस ना पहुंचे। इसका पूरा ख्याल रखेंगे।

ड्रोन, सीसीटीवी और वीडियोग्राफी से एसएसपी ने संभाली कमान

सुरक्षा व्यवस्था की पूरी कमान एसएसपी ने संभाल रखी हैं। वह खुद ड्रोन, सीसीटीवी और वीडियोग्राफी के माध्यम से असामाजिक तत्वों पर निगरानी रखे हुए हैं। गांधी मैदान के चारों तरफ कई ड्रोन उड़ाए गए हैं। उस ड्रोन के जरिए पूरे कार्यक्रम पर निगरानी रखी जाएगी। कार्यक्रम स्थल पर सीआरपीएफ, एसएसबी, जिला बल होमगार्ड और महिला पुरुष जवान को लगाया गया है। कोरोना काल के 2 सालों के बाद रावण वध का कार्यक्रम हो रहा है। इस कारण से गांधी मैदान में अप्रत्याशित भीड़ होने की पूरी उम्मीद है।

गांधी मैदान में रावण दहन के अलवा यहां होगा रावण वध

कार्यक्रम के अलावे गया जिले के अन्य अनुमंडल, प्रखंड व थाना क्षेत्र में भी रावण दहन का कार्यक्रम हर्षोल्लास के साथ मनाया जा रहा है जो निम्न प्रकार हैं। 
सदर अनुमंडल क्षेत्र में
1. रसलपुर (मानपुर)
2. तरवां (वजीरगंज)
3. कधरिया (वजीरगंज)
4. मोचारिम (बोधगया)
5. मेन (बेलागंज)
6. टनकुप्पा बाजार (टनकुप्पा)
*शेरघाटी अनुमंडल क्षेत्र में* 
1. रंगलाल मैदान (शेरघाटी)
2. रानीगंज (इमामगंज)
3. ठाकुरबाड़ी (डोभी)
4. बाजार (बांके बाजार)
5. रोशनगंज (बांके बाजार)
टेकारी अनुमंडल क्षेत्र में
1. कांवड (कोंच)
2. पंडित बिघा (परैया)
3. सर्वोदय विद्यालय (गुरारू)
निमचक बथानी अनुमंडल क्षेत्र में
1. कुरवां (खिजरसराय)
जिलावासियों से अनुरोध किया गया है कि अपने अपने क्षेत्र में रावण दहन कार्यक्रम में भाग लेकर हर्षोल्लास के साथ पर्व मनाएं।

Edited By: Prashant Kumar Pandey

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट