संवाद सहयोगी, भभुआ: कोरोना संक्रमण के इस दौर में अब शादी का सीजन शुरू हो गया है। शनिवार की सुबह से ही खरमास समाप्त हो गया है। अब शादी का सीजन शुरू होने से  व्यवसाय थोड़ा अच्छा होने की उम्मीद जगी है। लेकिन कोरोना के संक्रमण से थोड़ा व्यवसायी वर्ग परेशान है। कोरोना संक्रमण में टेंट, हाल व मैरेज हाल संचालक कोरोना संक्रमण व उसके कारण नहीं होनेवाले आयोजनों से परेशान हैं। दरअसल कोरोना के संक्रमण दौर में कम लोगों के साथ शादी के कार्यक्रम में शामिल होना है। इसलिए महंगाई व अन्य चीजों को देखते हुए शादी के रश्मों व भीड़ से लोग थोड़ा परहेज करने लगे हैं। 

कोरोना संक्रमण के दौर में शादी करने से लोग कर रहे परहेज

कई लोगों ने महीनों पहले से विवाह मंडपों और होटलों में बुकिंग कर रखी है। लेकिन कोरोना के दौर में शादी करने में सभी लोग घबरा रहे हैं। कोरोना के बढ़ते मामलों के कारण राज्य सरकार ने शादी-विवाह में सीमित लोगों के ही शामिल होने की अनुमति दी है। 21 जनवरी तक के लिए जारी बिहार सरकार की गाइडलाइन के अनुसार सिर्फ 50 लोग ही शादी समारोहों में शामिल हो सकते हैं। जिस तरह से कोरोना के नए मामलों में बढ़ोत्तरी हो रही है, उसमें 21 जनवरी के बाद भी अगले कुछ दिनों तक संख्या को लेकर छूट मिलने की संभावना कम है। कुछ लोग कोरोना संक्रमण के दौर में शादी करने से परहेज कर रहे हैं।

किस महीने में शुभ मुहूर्त 

जनवरी - 20, 21, 22, 23, 25, 26, 27, 28, 29

फरवरी - चार, पांच, छह, नौ, 10, 11, 12, 16, 17, 18, 19

अप्रैल - 15, 16, 17, 18, 19, 20, 21, 22, 23, 27, 28

मई - दो, तीन, चार, नौ, 10, 11, 12, 13, 14, 15, 17, 18, 19, 20, 21, 24, 25, 26, 31

जून - एक, पांच, छह, सात, आठ, नौ, 10, 11, 12, 13, 14, 15, 16, 17, 21, 22, 23

जुलाई - दो, तीन, चार, पांच, छह, सात, आठ, नौ, 10

नवंबर - 24, 25, 26, 27, 28

दिसंबर - दो, तीन, चार, सात, आठ, नौ, 13, 14, 15, 16

Edited By: Prashant Kumar Pandey