जागरण संवाददाता, नवादा: जिले में अवैध ढंग से हो रहे बालू के खनन पर लगाम कसने के लिए अब ड्रोन का सहारा लिया जा रहा है। डीएम उदिता सिंह के निर्देश पर अवैध ढंग से बालू खनन व भंडारण की प्रक्रिया पर विराम लगाने के उद्देश्य से इस नई व्यवस्था को लागू किया गया है। शनिवार को ड्रोन के माध्यम से जिले के कई बालू घाटों पर छापेमारी की गई। कई ट्रैक्टर व डाला जब्त हुए।

खनन निरीक्षक अमित कुमार ने बताया कि खनवां में एक ट्रैक्टर जब्त हुआ है। वहींखनवां में तीन डाला बालू लदा हुआ जब्त किया गया। नरहट प्रखंड के ही गारोबिगहा बालू घाट पर दो ट्रैक्टर व एक बाइक को जब्त किया गया। ड्रोन को उड़ता हुआ देख सभी बालू तस्कर मौके से भाग गए। हालांकि पुलिस इन्हें भी खोजने में जुटी हुई है। आसमान में उड़ते हुए ड्रोन को देखकर अब बालू तस्करों की नींद उड़ गई है। ड्रोन के जरिए सक्रिय बालू तस्करों की तस्वीर भी ली जा रही है। यानि अब ड्रोन कैमरे की नजर से कोई भी नहीं बच पाएगा।

जिले में बालू के खनन पर है रोक, फिर भी धंधा जारी:वर्तमान में जिले में बालू के खनन पर रोक लगी हुई है। फिर भी जिले में अवैध ढंग से बालू खनन का गोरखधंधा निर्बाध रूप से जारी है। धंधेबाज विभिन्न बालू घाटों पर अवैध ढंग से बालू का खनन कर जरूरतमंदों तक ऊंची कीमत पर पहुंचा रहे हैं। कई तस्कर अवैध ढंग से बालू के भंडारण में भी लगे रह मुंहमांगी रकम वसूल जरूरतमंदों को बालू उपलब्ध करा रहे हैं। प्रशासन को इस अवैध धंधा में लगाम लगाने में भारी मशक्कत करनी पड़ रही थी। अब ड्रोन जैसे आधुनिक सुविधा उपलब्ध होने से तस्करों पर सख्ती बरती जा सकेगी।

ड्रोन से चप्पे-चप्पे में रखी जाएगी नजरडीएम के निर्देश पर जिला खनन विभाग द्वारा बालू के अवैध खनन व भंडारण आदि का पता लगाने के लिए ड्रोन का सहारा लिया जा रहा है। इस नई व्यवस्था से अवैध तस्करों पर शिकंजा कसा जाएगा। बालू की चोरी रूकेगी।

Edited By: Prashant Kumar Pandey