गया । दक्षिण बिहार केंद्रीय विश्वविद्यालय में शुक्रवार को पाच दिवसीय खेल महोत्सव 'इंद्रधनुष 2019' का आगाज हुआ। प्रतिभागी विद्यार्थियों के चार ग्रुप हाउस ऑफ ट्रुथ, हाउस ऑफ प्रॉस्पेरिटी, हाउस ऑफ करेज एवं हाउस ऑफ पीस बनाए गए हैं। खेल प्रतियोगिता का पहला मुकाबला वॉलीबॉल का हुआ। हॉउस ऑफ ट्रुथ ने हाउस ऑफ करेज को पराजित कर जीत की शुरुआत की। पांच दिवसीय इस खेल उत्सव में फुटबॉल, वॉलीबॉल, क्रिकेट, कैरम, टेबल टेनिस, बैडमिंटन, कबड्डी, जंपिंग आदि प्रतियोगिताएं आयोजित की जाएंगी। प्रतियोगिता के समापन पर बेहतर प्रदर्शन करने वाली टीमों एवं खिलाड़ियों को पुरस्कृत किया जाएगा।

जन संपर्क पदाधिकारी मु. मुदस्सिर आलम ने बताया कि वार्षिक खेल उत्सव इंद्रधनुष का औपचारिक उद्घाटन माननीय कुलपित ने दीप जलाकर किया। उसके बाद उन्होंने शॉट लगा कर वॉलीबॉल प्रतियोगिता की शुरुआत की।

--

विद्यार्थियों के जीवन में खेलकूद

भी जरूरी : कुलपति

दक्षिण बिहार केंद्रीय विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो हरिश्चंद्र सिंह राठौर ने ने कहा कि विद्यार्थियों के जीवन में शिक्षा के साथ खेलकूद भी जरूरी है। खेल को हमेशा खेल भावना से खेलना चाहिए। विश्वविद्यालय में वार्षिक खेल उत्सव का आयोजन सबके लिए बहुत ही उत्साहवर्धक है। उन्होंने प्रतियोगिताओं की सफलता की कामना की। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय के नए परिसर में खेलकूद के सीमित संसाधन उपलब्ध होने के बावजूद कार्यक्रम का आयोजन होना बहुत ही हर्ष की बात है। कुलपति के भाषण से पूर्व प्रतिभागियों ने योग की विभिन्न मुद्राएं प्रस्तुत कर उपस्थित लोगों का मन मोह लिया।

-------------

खेलकूद भी पाठ्यक्रम

का महत्वपूर्ण हिस्सा

विवि की खेलकूद समिति की अध्यक्षा डॉ. समापिका मोहापात्रा ने कहा कि आमतौर पर खेल को अतिरिक्त गतिविधियों के रूप में देखा जाता है, जिससे मैं सहमत नहीं हूं। मेरे हिसाब से खेलकूद एवं संबंधित गतिविधिया भी पाठ्यक्रम का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। उन्होंने कहा कि विद्यार्थियों में खेल भावना बढ़ाने के लिए इस वार्षिक खेल उत्सव का आयोजन किया जा रहा है। इससे हमे प्रतिभावान खिलाड़ियों से रूबरू होने का मौका मिलेगा।

-------------

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप