कैमूर, जागरण संवाददाता। जिले के एक पुलिस अधिकारी का ऑडियो वायरल हो रहा है। एक मामले के आरोपित को वह भद्दी-भद्दी गालियां देता सुनाई दे रहा है। इस मामले की शिकायत एसपी से की गई है। आरोपित पर कार्रवाई की मांग की गई है। मामला चांद थाना  क्षेत्र का है। इसमें थाना क्षेत्र के बरांव निवासी शशिकांत सिंह यादव और एएसआइ अरुण कुमार यादव के बीच मोबाइल पर बातचीत का क्लिप वायरल हो रहा है। आॅडियो में जमादार कह रहा है कि जो बचल है ऊ पूरा कर दो, नहीं तो हम घरवा पर दूसरा बेरी चढ़ेंगे तो एको करम नहीं छोड़ेंगे। शशिकांत के कुछ कहने पर वह गंदी-गंदी गालियां देने लगता है।

रास्‍ते के विवाद से जुड़ा है मामला

शशिकांत ने बताया कि  24 मार्च को रास्‍ते के विवाद में दो परिवारों के बीच मारपीट हुई थी। दोनों पक्ष के लोग उसमें घायल हुए थे। दूसरे पक्ष के रामवतार यादव ने उसी दिन थाने में आवेदन दिया था। शशिकांत का कहना है कि अगले दिन 25 मार्च को उसकी मां ने भी थाने में शिकायत की। पुलिस ने पहले पक्ष के आवेदन पर प्राथमिकी दर्ज कर ली लेकिन उसके आवेदन पर कोई संज्ञान नहीं लिया। इस बाबत कहने पर जमादार अरुण यादव ने पैसे मांगे। उसे पांच हजार रुपये दिए तब एफआइआर की गई। इधर सरपंच की पहल पर 26 मार्च को दोनों पक्षों में सुलह हो गया। समझौता के कागजात लेकर थाने पहुंचे तो नहीं लिया गया।

फोन पर गालियां देता है जमादार

शशिकांत का आरोप है कि उसके बाद जमादार अरुण यादव का फोन आया। उसने जमकर गालियां दीं। इसके बाद उसे पकड़कर थाने ले जाने लगा। रास्‍ते में उसे पांच हजार रुपये दिए तो उसने छोड़ा। लेकिन इसके बाद भी वह गिरफ्तारी की धमकी दे रहा है। फोन पर गंदी-गंदी गालियां देता है। इस बाबत एसपी राकेश कुमार ने कहा कि शिकायत मिली है। एएसपी को जांच का जिम्‍मा सौंपा गया है। इस तरह किसी से दुर्व्‍यवहार बर्दाश्‍त नहीं की जाएगी। चाहे वह आम आदमी हो या आरोपित। इधर थानाध्‍यक्ष संजय कुमार ने कहा कि पूरा मामला एसपी के संज्ञान में है। एसपी ने जांच का आदेश दे दिया है।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021