जागरण संवाददाता, नवादा। समेकित जांच चौकी पर शराब तस्करी पर रोक के लिए उत्पाद विभाग की टीम गिट्टी समेत अन्य सामग्री लदे ट्रकों की सघन तलाशी ले रही है। जिसके कारण एनएच 31 पर एक तरफ जांच चौकी से कोडरमा तक तथा दूसरी तरफ रजौली बाइपास तक वाहनों की लंबी कतारें लगी हुई है।

बसों व छोटे-छोटे कारों में सवार यात्रा कर रहे लोगों को परेशानी हो रही है। 2 बजे रात से 5 बजे शाम तक वाहनों में सवार लोग सड़क जाम में फंसे थे। ऐसे में भोजन-पानी तक की समस्या हो रही थी। घंटों जाम के कारण ट्रक चालकों एवं यात्रियों द्वारा उत्पाद विभाग के टीम पर मनमानी करने का आरोप लगाते हुए जमकर हंगामा किया गया। लोगों ने बताया कि शराब जांच के नाम पर आम यात्री भी परेशान हो रहे हैं।

जांच के दौरान सभी गाडिय़ों को रोक कर रड के द्वारा चोट कर जांच किया जा रहा है। जिससे एक-एक गाड़ी की जांच में घंटों लग जा रहा है। यहां लोगों ने स्कैनर के द्वारा वाहनों की जांच कराने की मांग की है, ताकि जाम की समस्या से निजात मिल सके। वाहन चालकों ने बताया कि उत्पाद कर्मियों का कहना हैं? कि शराब से भरी वाहन जांच चौकी से राज्य के अंदर प्रवेश कर जाती हैं? तो उपर के अधिकारियों को जवाब हम लोगों को देना पड़ता है। इसलिए आप लोग जांच-पड़ताल होने दे, शांति बनाए रखें। लेकिन, जाम से हलकान परेशान लोग रुक रुक कर हंगामा करते ही रहे।

इस दौरान गिट्टी लदे ट्रकों के साथ अन्य सामान ढोने वाले ट्रक चालकों ने कहा कि रड से जिस तरह से मार कर जांच-पड़ताल किया जा रहा है, उससे अंदर रखा हुआ सामान बर्बाद हो रहा है। इसके जिम्मेदार कौन हैं? क्या इस तरह से माल बर्बाद होने की चर्चा पर लोगों को कोई भी ट्रांसपोर्टरों के द्वारा भाड़ा नहीं दिया जायेगा। हंगामा करते लोगों ने कहा कि इस तरह से जांच रोक देनी चाहिए तथा स्कैनर के द्वारा वाहनों की जांच कराई जानी चाहिए।

Edited By: Prashant Kumar