गया, जागरण संवाददाता।  कोरोना के कहर देखते हुए शुक्रवार से गया कोर्ट (Gaya Civil Court) में आम आदमी के प्रवेश पर रोक लगा दी गई। आज कोर्ट पहुंचे अधिवक्ताओं को बताया गया कि वर्चुअल (Virtual) कोर्ट का संचालन होगा। इतना सुनते ही अधिवक्‍ता नाराज हो गए। उनलोगों ने कोर्ट का बहिष्‍कार कर दिया। कोर्ट परिसर में विरोध में जुलूस निकाला और कोर्ट के बाहर सड़क को जाम दिया। सूचना पर सिविल लाइंस थानाध्यक्ष जफर इमाम दलबल के साथ पहुंचे। समझा बुझाकर जाम को समाप्त कराया। इस दौरान अफरातफरी क‍ी स्थिति बनी रही।

वर्चुअल कोर्ट नहीं करेंगे अधिवक्‍ता

मालूम हो कि कोरोना के बढ़ते लहर को देखते हुए कोर्ट में फिजिकल सुनवाई नहीं होगी। जो भी मामले होंगे वे वर्चुअल सुने जाएंगे। इसको लेकर अधिवक्‍ताओं ने रोष जताया है। प्रदर्शन और सड़क जाम के बाद गया बार एसाेसिएशन की बैठक हुई। निर्णय लिया गया कि कोई भी वचुअल कोर्ट नहीं करेंगे। सभी के पास वर्चुअल करने की सुविधा नहीं है। इसलिए वर्चुअल कोर्ट कराने पर कोर्ट को फिर विचार करना चाहिए। फिलहाल शारीरिक और वचुअल कोर्ट को लेकर संशय बनी हुई है। इधर काफी संख्या में केस के पैरवीकार भी कोर्ट पहुंचे हैं। उन्‍हें सुरक्षाकर्मी कोर्ट में प्रवेश नहीं करने दे रहे। गया केंद्रीय कारा के बंदियों को भी हाजरी के लिए कोर्ट नहीं लाया गया है। उम्मीद की जा रही है कि बंदियों की हाजिरी भी वर्चुअल होगी।

( कोर्ट के बाहर तैनात पुलिसकर्मी।)

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021