गया। वजीरगंज डाकघर में हजारों लोगों के आधार कार्ड व अन्य दस्तावेजों को जला दिया गया। यह डाकघर नवादा जीपीओ के अधीन है।

आधार कार्ड को संबंधित लोगों तक पहुंचाने की जवाबदेही थी। लोग इसका इंतजार ही करते रह गए। आधार कार्ड जलाए जाने का एक वीडियो भी वायरल हो रहा है। वीडियो बनाने वाला व्यक्ति पूछ रहा है कि यह क्यों जला रहे हैं? इसके बाद भी उक्त कर्मी निर्लज्जता के साथ आधार कार्ड के लिफाफे को आग में झोंकता दिख रहा है। बताया जाता है कि वह एक सेवानिवृत्त कर्मी है, जिसे संविदा पर रखा गया है। इस घटना से लोगों में आक्रोश है। लोग कह रहे हैं कि एक ओर सरकार हर नागरिक को आधार कार्ड मुहैया कराने का प्रयास कर रही है, दूसरी ओर ऐसे कर्मी इस पर पानी फेर रहे हैं। इस संबंध में पूछे जाने पर नवादा जीपीओ के डाक अधीक्षक राजबल्लभ पासवान ने कहा कि उन्हें इस घटना की जानकारी नहीं है। इधर-उधर से जो जानकारी मिली है, उसके आधार पर निरीक्षक से इसकी जांच कराने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। यह घटना शनिवार को हुई प्रतीत हो रही है। वीडियो में यह साफ दिख रहा है कि लोगों की आई डाक के साथ आधार कार्ड भी जलाए जा रहे हैं। उक्त कर्मचारी के बारे में बताया गया कि वह सेवानिवृत्ति के बाद संविदा पर कार्यरत है। जिस समय आधार कार्ड जलाए जा रहे थे, उसी समय अपने कार्य से आया एक युवक यह देख अवाक रह गया। उसने उस कर्मी को ऐसा करने से रोका भी और उसे आधार कार्ड का महत्व भी समझाया। लेकिन उस पर इन सब बातों का कोई असर नहीं पड़ा। वीडियो बनाने की बात भी उसे पता चल जाती है, इसके बाद भी वह नहीं रुकता है। वीडियो वायरल होने के बाद आक्रोशित लोग इसकी तत्काल उच्चस्तरीय जांच की मांग और उस कर्मी पर सख्त कार्रवाई करते हुए प्राथमिकी दर्ज कराने की मांग कर रहे हैं। लोगों को आशंका है कि इस डाकघर में आने वाली पार्सल भी लोगों तक नहीं पहुंचाई जाती है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप