गया : शेरघाटी प्रखंड के बनिया-बरौन गांव में रविवार को में अचानक नेबारी पुंज में आग लगने से हजारों रुपए का नुकसान किसानों को हुआ है। ग्रामीणों के प्रयास से काफी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया गया। पीड़ित किसान भोला पासवान, मुकेश पासवान, विपुल पासवान,राजेन्द्र यादव,सतेंद्र पासवान,जयराम सिंह, सुभाष सिंह,लक्ष्मण यादव ने बताया कि सभी का खलिहान एक ही जगह था, जहां नेवारी का गांज लगा हुआ था। आगजनी का कारण स्पष्ट नहीं हो सका है।

स्थानीय लोगों ने बताया कि आग कैसे लगी यह पता नहीं चल पाया। जब आग की लपट उठने लगी तो पता चला। फिर गांव के लोग शोर गुल करते हुए दौड़े। समरसेबल पंप चालू काफ़ी प्रयास के बाद आग पर काबू पाया जा सका। आगजनी की सूचना अंचलाधिकारी शेरघाटी को दी गई है। लिखित आवेदन के आधार पर मुआवजा देने का आश्वासन दिया गया है। सूचना पर अग्निशमन की गाड़ी पहुंच कर आग बुझाने में सहयोग किया। सभी किसानों को मिलाकर लगभग साठ हजार नेवारी जल कर राख हो गई है।

दस हजार नेवारी का पुंज जलकर राख : मानपुर मुफस्सिल थाना क्षेत्र के इगुना गांव के समीप खलिहान में रविवार को आग लग गई। जिससे द्वारिका यादव के करीब दस हजार नेवारी का पुंज जलकर राख हो गया। आग कैसे लगी इसकी स्पष्ट जानकारी अभी नहीं हुई है। ग्रामीणों ने बताया कि खलिहान में नेवारी के पुंज से एकाएक धुंआ निकलते देख लोग शोर करने लगे। गांव वाले आग पर काबू पाने के लिए अपने स्तर से काफी प्रयास किया। लेकिन आग पर काबू नहीं पाया गया। तब जाकर अग्निशामक की जानकारी दी गई। उसे आने के बाद आग पर काबू पाया गया।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप