गया। जिले में एक ओर जहां मई माह में कोरोना संक्रमण की रफ्तार काफी हद तक थमी है। वहीं मगध मेडिकल अस्पताल में मौत का आंकड़ा कई गुणा बढ़ गया है। बीते चार दिनों की रिपोर्ट पर नजर दौड़ाएं तो मेडिकल अस्पताल के कोविड-19 वार्ड में 49 मरीजों ने दम तोड़ दिए। अस्पताल प्रबंधन का दावा है कि यहां हर मुमकिन बेहतर इलाज किया जा रहा है। बावजूद मरीजों की मौत के आंकड़े हर किसी की चिता बढ़ाने वाली हैं। गुरुवार को मगध मेडिकल अस्पताल से मिली जानकारी के अनुसार बीते चौबीस घंटों में 14 मरीज की मौत हुई। रिपोर्ट के मुताबिक इनमें से एक संक्रमित मरीज हैं। शेष की कंफर्म रिपोर्ट के लिए जांच के लिए सैंपल लिया गया है। गुरुवार को कोतवाली थाना क्षेत्र के 69 वर्षीय मरीज की मौत हो गई। मृतकों में 11 गया जिले के व 3 औरंगाबाद के शामिल हैं। मौत के बढ़ते आंकड़ों पर अस्पताल के अधीक्षक डॉ. प्रदीप अग्रवाल ने कहा कि सभी सीनियर डॉक्टर मरीजों की इलाज में दिन-रात जुटे हुए हैं। सरकार ने कोविड मरीजों के लिए जो भी संसाधन उपलब्ध कराएं हैं उसका इस्तेमाल किया जा रहा है।

-----------

संक्रमण की तकलीफ बढ़ते ही अस्पताल पहुंचे मरीज: अधीक्षक

-मेडिकल अस्पताल के अधीक्षक डॉ. प्रदीप अग्रवाल ने मरीज के स्वजनों से अनुरोध किया कि कोविड-19 का संक्रमण की तकलीफ बढ़ते ही मरीज को मेडिकल लेकर आएं। अधिक विलंब नहीं करें। कई मरीज काफी लेट पहुंचते हैं। तब तक मरीज का फेफड़ा 60-80 फीसद नष्ट हो चुका होता है। कइयों का खून थक्का हो जाता है। ऐसे मरीजों की जान बचाने में थोड़ी मुश्किल आती है। ऐसा देखा जा रहा है कि निजी अस्पताल जब पूरी तरह से थक हार जाते हैं तो अंतिम समय में मरीज को मेडिकल अस्पताल रेफर करते हैं। मेडिकल अस्पताल में हाल के दिनों में हुई मौत का आंकड़ा

13 मई- 14

12 मई- 11

11 मई- 12

10 मई- 12

Edited By: Jagran