गया । कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण पूरे जिले में लॉकडाउन है। इस कारण हम पूरा समय अपने परिवार के बीच व्यतीत कर रहे हैं और घर में रहकर बहुत अच्छा महसूस कर रहा हूं। घर में रहकर सैनिटाइजर से कुर्सी, फ्रिज, आलमारी, खिड़की व दरवाजे सभी चीजों को साफ किया। कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए लॉकडाउन बहुत ही अच्छा प्रयास है। हम फेसबुक व वाट्सएप के माध्यम से लोगों को बाहर नहीं निकलने के लिए आगाह कर रहे हैं। यह कहना है भाजयुमो की प्रदेश कार्यसमिति के सदस्य गणेशजी का।

वह कहते हैं, कोरोना वायरस तब तक आपके घर नहीं आएगा, जब तक आप उसे लेने बाहर नहीं जाएंगे। सीधी-सी बात है न स्वयं बाहर जाएं और न ही किसी को बाहर से अंदर बुलाएं। हम बिहारवासियों व भारतवासियों को यही कहना चाहेंगे कि बिना जरूरत के घरों से बाहर नहीं निकलें। बहुत जरूरत पड़ने पर ही बाहर जाएं। भीड़ से बचें और साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखें। हम कोरोना को हराएंगे और अपना व अपने स्वजनों सहित निकटस्थ लोगों का जीवन बचाएंगे।

-------------------- घर में ही रहकर समाचार पत्र के जरिये लिया संक्रमण का हाल फोटो- 36

जागरण संवाददाता, गया : कोरोना वायरस के संक्रमण से सुरक्षित रहने के लिए जितेंद्र कुमार 'जीतू' अपने परिवार के साथ सभी बाहरी कार्य को त्याग कर घर में ही समाचार पत्र पढ़कर कोरोना वायरस के संक्रमण की जानकारी ली और उनके बेटे-बेटी पठन-पाठन कर समय व्यतीत कर रहे हैं और मोबाइल से लोगों को जागरुक कर रहे हैं कि आप लोग भी अपने घर में ही सुरक्षित रहें। उन्होंने कहा, घर में भी दूरी बनाकर रखें। भोजन से पहले अपने हाथ जरूर साफ करें। बच्चों को भी इसके लिए जागरूक करें।

----------- दिनभर अपने परिवार के साथ रहे शेरघाटी के व्यवसायी संजय गुप्ता

------

फोटो- 40

संवाद सहयोगी, शेरघाटी : गोला बाजार शेरघाटी के व्यवसायी व जदयू व्यावसायिक प्रकोष्ठ के प्रखंड अध्यक्ष संजय गुप्ता ने लॉकडाउन का दूसरा दिन अपने परिवार के साथ सुबह योग से प्रारंभ किया। उन्होंने कहा, कोरोना वायरस का संक्रमण वैश्विक महामारी है, इसलिए स्वयं और परिवार के बचाव के लिए पहले योग किया। फिर घर व बालकनी को सैनिटाइजर से स्प्रे कर उसे साफ किया। इसके बाद स्नान कर पूजा में ध्यान लगाया। नाश्ते के बाद बच्चों को पढ़ाया और लूडो का आनंद लिया। फिर सोशल मीडिया के माध्यम से अपने मित्रों व शुभचिंतकों को लॉकडाउन में घर से बाहर नहीं निकलने की सलाह दी। वही ज्ञान सरोवर स्कूल के प्राचार्य तुलसी प्रसाद सिंह ने लॉकडाउन के समय घर में परिवार के साथ रहकर दिन बिताया। उन्होंने कहा, कि सुबह की नियमित दिनचर्या के बाद बच्चों को घर से नहीं निकलने की हिदायत दी। साथ ही कोरोना जैसी खतरनाक बीमारी से खुद को और दूसरों को बचाने के लिए घरों में रहने का सुझाव दिया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस